80 वर्ष की उम्र में पर्यावरण के प्रहरी बने भूराराम सीरवी

-पर्यावरण संरक्षण का अनूठा जज्बा
-गोचर भूमि में लगाए नीम के पौधे

By: Suresh Hemnani

Published: 20 Nov 2020, 12:17 PM IST

पाली/पावा। करीब छह साल पूर्व मन में पौधे लगाने का मानस बनाया। ग्राम पंचायत से पौधा लगाने का प्रस्ताव पारित करवाया। प्रस्ताव को लेकर उपखंड अधिकारी से स्वीकृति मांगी। प्रशासन ने स्वीकृति दी। हाथों-हाथ नीम के पौधे लगाकर ट्री गार्ड लगाए। प्रत्येक सप्ताह पानी के टैंकर से सप्लाई करनी शुरू की। अब ये पौधे बड़े होकर हरियाली से पर्यावरण का शुद्ध कर रहे हैं। हम बात कर रहे हैं 80 वर्षीय कोसेलाव निवासी भूराराम सीरवी की।

दरअसल, कोसेलाव निवासी भूराराम सीरवी गांव में कृषि का कार्य करते हैं। कोसेलाव गांव से एक किलोमीटर दूर तखतगढ़ मार्ग स्थित हिंगोटिया हनुमान मंदिर है। यहां हर वर्ष मेला भरता है। मेले का आयोजन पूर्व में नाडी की तरफ हो रहा था। 2013 में सीरवी के मन में पौधे लगाकर मेला बाहर भरवाने की ठानी। पूर्व सरपंच नारायणसिंह से इसको लेकर चर्चा की। ग्राम पंचायत से पौधा लगाने की प्रस्ताव पारित करवाया। प्रस्ताव को लेकर उपखंड अधिकारी से स्वीकृति मांगी। तत्कालीन उपखंड अधिकारी ने स्वीकृति में पौधे बड़े कर आमजन को सुपुर्द करने की शर्त रखी। इसके बाद इस गोचर भूमि पर करीब 150 नीम के पौधे लगाए गए। स्वयं भूराराम ने एक-एक पौधे की सुरक्षा के लिए ट्री गार्ड लगवाए। पौधों को नियमित रूप से पानी भी डलवाया गया। अब ये पौधे बड़े होकर वृक्ष के रूप में दिखने लगे हैं। इन पौधों के नीचे गर्मियों में मवेशियों को ठंडक मिलती है। गांव में अन्य स्थानों पर भी वे पौधे लगवा चुके हैं। ये प्रयास अब भी जारी है।

बेटों को भी करते हैं प्रेरित
भूराराम सीरवी के चार बेटे हैं। वे सभी को जन सेवा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रेरित कर रहे हैं। उनकी पहल से घर के बाहर हो या अन्य जगहों पर भी पौधे लगाए है।

इनका कहना है...
-गांव में भूराराम सीरवी ने पौधों को स्वयं के खर्चे से बड़ा किया है। हिंगोटिया हनुमान मंदिर के सामने पौधे लगाए हैं। ये कार्य काबिले तारीफ है। -नारायणसिंह, पूर्व सरपंच एवं प्रेरक, कोसेलाव

-मेरे पिताजी सबको पौधे लगाने के लिए प्रेरित करते हैं। इसी पहल से गांव को हरा भरा करने के लिए पौधे लगाने का दूसरा कार्यक्रम शीघ्र ही शुरू करेंगे। -पोकराराम सीरवी, पुत्र, कोसेलाव

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned