VIDEO : न बजे बैंड-बाजे, न निकली बारात, दूल्हा-दुल्हन ने किया वादा, निभाएंगे जन्म-जन्म का साथ

- कोरोना काल [ Corona period ] में हुई शादी बनी मिसाल, किया सैनेटाइज का उपयोग

By: Suresh Hemnani

Updated: 05 May 2020, 07:19 PM IST

पाली/राणावास। जिले के मारवाड़ जंक्शन उपखण्ड के मगरा क्षेत्र में स्थित बांसोर गांव में प्रजापत समाज [ Prajapat Samaj ] के एक परिवार ने सोशल डिस्टेंस [ Social distance ] व सरकार की गाइडलाइनों की पालना करते हुए बेहद सादे तरीके से अपनी बेटी का विवाह [ marriage ceremony ] कर एक मिसाल पेश की है। यह विवाह लॉकडाउन [ Lockdown ] के बीच चर्चा का विषय बन गया है।

वैसे तो शादी में आज मेरे यार की शादी है..., बहारो फूल बरसाओं... जैसे गानों की गूंज रहती है। लेकिन इस शादी में कोरोना महामारी को लेकर काफी परिवर्तन देखा गया। शादी में न तो बेंड-बाजे बजाए गए न ही बारातियों को बुलाया गया। बता दें कि रानी तहसील के गेनडी गांव से बांसोर गांव में माधूराम की पुत्री ममता के विवाह को लेकर दूल्हा महेश प्रजापत अपने पिता रमेश प्रजापत व चार अन्य परिजन के साथ बांसोर गांव पहुचे।

विवाह स्थल कुमारों का बेरा पर आरआरटी प्रभारी पीइइओं तुलसाराम बोगरेसा व मोहनलाल चौधरी की उपस्थिती में सादगी और रीति रिवाज से विवाह संपन्न करवाया गया। रस्मों रिवाज के बाद दूल्हा-दुल्हन के हाथ सेनेटाइजर द्वारा साफ करवाए गए।

Corona virus
Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned