scriptBuyers of 124 liquor contracts were not found in Pali | शराब ठेका अब घाटे का सौदा, ठेकेदारो ने मोड़ा मुंह, 124 शराब ठेकों के खरीदार नहीं मिले | Patrika News

शराब ठेका अब घाटे का सौदा, ठेकेदारो ने मोड़ा मुंह, 124 शराब ठेकों के खरीदार नहीं मिले

- शराब की दुकानें आवंटित नहीं होने पर अफसरों पर लटक सकती तलवार
- पाली में 275 दुकानों में से 151 के खरीदार ही मिले, तस्करी बढ़ने की आशंका

पाली

Updated: March 31, 2022 09:11:16 pm

पाली। शराब ठेका लेने के लिए लगने वाली भीड़ अब दिखाई नहीं देती है। पॉलिसी के चलते अब शराब ठेकों का कारोबार घाटे का सौदा साबित हो रहा है। लिहाजा पाली में इस बार 124 शराब ठेकों का कोई खरीदार नहीं मिला है। मान मनुहार के बावजूद ये ठेके नहीं बिके। अब इनकी नए सिरे से निलामी की जाएगी। इससे आबकारी विभाग परेशान है।
शराब ठेका अब घाटे का सौदा, ठेकेदारो ने मोड़ा मुंह, 124 शराब ठेकों के खरीदार नहीं मिले
शराब ठेका अब घाटे का सौदा, ठेकेदारो ने मोड़ा मुंह, 124 शराब ठेकों के खरीदार नहीं मिले
अंतिम दिन शराब का माल खपाने मेें जुटे ठेकेदार
जिन शराब ठेकेदारों ने अपना ठेका रिन्यू नहीं करवाया, उन्हें अपने ठेके का बचा हुआ माल 31 मार्च तक खाली करना था, ऐसे में आनन फानन में इन ठेकेदारों ने अपना माल तस्करों व अवैध ब्रांचों पर बेचा है। इससे इन क्षेत्रों में अब तस्करी बढ़ने की आशंका बढ़ गई है। इसको लेकर आबकारी विभाग चौकन्ना हो गया है। पाली, जैतारण, रोहट, बाली, सुमेरपुर, सोजत, रायपुर मारवाड़, मारवाड़ जंक्शन क्षेत्र में ये ठेके नहीं खुले है।
अब बात पहले जैसी नहीं
पहले शराब दुकान लॉटरी में जिसके नाम दुकान खुलती, वह खुद को भाग्यशाली मानता था। लेकिन अब हालात बदल गए। सरकार की नई आबकारी नीति ठेकेदारों को रास नहीं आ रही। मौजूदा ठेकेदार अब पुनः दुकानों के आवंटन में रुचि नहीं ले रहे। वहीं शराब ठेकों का आवंटन नहीं लेने पर अफसरों पर गाज गिराने तक की चेतावनी मुख्यालय से दी गई है। ऐसे में आबकारी अफसरों पर चार्जशीट और निलंबन तक की कार्रवाई हो सकती है। इससे आबकारी महकमे में हड़कम्प मचा है।
तीन बड़े कारण, जिनके कारण रूचि नहीं
- लाइसेंस फीस में इजाफा हुआ, जबकि ठेकेदारों को इतना मार्जन नहीं मिल रहा।
- ग्राहक ही नहीं बढ़े हैं।
- कोरोना महामारी ने पहले से ठेकेदारों की कमर तोड़ दी। ऐसे में ठेका घाटे का सौदा साबित हो
- शराब उठाव की गारंटी राशि बढ़ा दी। उतनी मात्रा में शराब के ग्राहक ही नहीं बढ़ रहे।
पाली में यह है हालात
कुल ठेके-275
नहीं बिके- 144
रिन्यू हुए - 151

प्रयास जारी, अवैध बिक्री पर नजर
शराब ठेकों की 144 दुकानों के खरीदार नहीं मिले, इनकी नए सिरे से निलामी होगी। जहां दुकानें नहीं है, वहां अवैध बिक्री रोकने के लिए टीमें गठित की गई है। कार्रवाई होगी। - कैलाश प्रजापति, जिला आबकारी अधिकारी, पाली।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: अपनी पत्नी पर खूब प्रेम लुटाते हैं इस नाम के लड़केबगैर रिजर्वेशन कर सकेंगे ट्रेन में यात्रा, भारतीय रेलवे ने जारी की सूचीनाम ज्योतिष: इन 3 नाम की लड़कियां जहां जाती हैं वहां खुशियों और धन-धान्य के लगा देती हैं ढेरजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंधन के देवता कुबेर की इन 4 राशियों पर हमेशा रहती है कृपा, अच्छा बैंक बैलेंस बनाने में रहते है कामयाबआपके यहां रहता है किराएदार तो हो जाएं सावधान, दर्ज हो सकती है एफआईआर24 हजार साल ठंडी कब्र में दफन रहा फिर भी निकला जिंदा, बाहर आते ही बना दिए अपने क्लोनअंक ज्योतिष अनुसार इन 3 तारीख में जन्मे लोगों के पास खूब होती है जमीन-जायदाद

बड़ी खबरें

अमरनाथ यात्रा से पहले आतंकी साजिश नाकाम, ड्रोन को गिराया, स्टिकी बम बरामदMansoon Update:समय से तीन पहले केरल में मानसून की एंट्री, हो रही बारिश, जानिए आपके यहां कब बदलेगा मौसमIPL 2022 Final मुकाबले में बन सकते हैं ये खास रिकॉर्ड, अश्विन, चहल, शमी, बटलर सभी के पास सुनहरा मौकासावधान कोई सुन रहा है आपको, फोन पर बातें सुन दिखाए जा रहे विज्ञापनMann ki baat: केदारनाथ पर गंदगी फैला रहे श्रद्धालु , प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- तीर्थ सेवा के बिना तीर्थ यात्रा अधूरी1 जून से बदल जाएंगे ये बड़े 5 न‍ियम, आपकी जेब पर होगा सीधा असरमानापाथी हिमालय के निचले इलाके में दिखा लापता नेपाली विमान, मुस्टांग में क्रैश होने की आशंका, सवार थे 22 लोगUEFA Champions League 2022: विनिसियस जूनियर के गोल से रियाल मैड्रिड ने रचा इतिहास, लिवरपूल को हरा 14वीं बार जीता खिताब
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.