मानवाधिकार आयोग अध्यक्ष ने पूछा - कोई तकलीफ तो नहीं है, यहां चिकित्सक समय पर आते हैं या नहीं...

मानवाधिकार आयोग अध्यक्ष व्यास पहुंचे पाली : बांगड़ अस्पताल में जांची व्यवस्थाएं, कबाड़ हटाने की दी हिदायत
-जिला कलक्टर से ली वैक्सीनेशन की जानकारी

By: Suresh Hemnani

Published: 17 Feb 2021, 09:37 AM IST

पाली। मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष गोपालकृष्ण व्यास ने मंगलवार को बांगड़ मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय का जायजा लिया। जोधपुर से पाली पहुंचे व्यास सीधे बांगड़ अस्पताल पहुंचे और मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल कक्ष में जिला कलक्टर अंशदीप से कोरोना वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी ली। इसके बाद प्रिंसिपल से अस्पताल की व्यवस्थाओं के बारे में जाना। करीब पन्द्रह-बीस मिनट की चर्चा के बाद वे अस्पताल का जायजा लेने निकले और सर्जिकल वार्ड में गए। वहां मरीजों से पूछा यहां दवा समय पर मिल रही है..., कोई तकलीफ तो नहीं है... चिकित्सक समय पर आते हैं या नहीं..., सफाई वाला आता है...।

वार्ड के सामने मिला कबाड़
इस वार्ड के सामने कबाड़ पड़ा होने पर पीएमओ और प्रिंसिपल से कहा कि यहां सफाई करवा दिजिए। इन सभी सवालों के जवाब उनको मरीजों ने बेहतर दिए। इसके बाद उन्होंने डायलिसिस कक्ष का जायजा लिया। वहां भी मरीजों से बात की। यहां रोजाना करीब 20 डायलसिस होने और केवल किट का पैसा लेने का जानकार व्यवस्था की सराहना की। इसके बाद उन्होंने आइसीयू वार्ड का भी जायजा लिया। अस्पताल में ही पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि बांगड़ चिकित्सालय में अभी तक जो व्यवस्था देखी है। वह बेहतर है। वैसे छोटी-बड़ी कोई कमी है तो उसे भी ठीक करवा दिया जाएगा।

अधिकारी आयोडा है, तकलीफ बताओ
वार्ड में एक मरीज से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अठै कोई तकलीफ तो कोनी है। ऐ मोटा-मोटा अधिकारी आयोडा है। अबार बता दो...ये कमी ने ठीक करवा दे ला..ऐ देखो कलक्टर साहब भी आया है। एक मरीज के पास पलंग पर बैठकर पूछा दवा बिजा रा पया तो कोनी लागे...।

उठाकर ले गए चम्पल
अध्यक्ष व्यास ने आइसीयू वार्ड में जाने से पहले बाहर जूते खोले। इसके बाद नंगे पैर ही मरीज के चैम्बर में गए। इस पर पीछे से अस्पतालकर्मी आया और चम्पल उठाकर ले गया और उनको पहनाए। इसके बाद वापस जूते वाली जगह पर आने पर पुलिसकर्मी ने उनके जूत उठाकर पैरों के आगे रखे।

ज्ञापन देकर बताई व्यथा
उनके अस्पताल से बाहर आने पर शहरवासियों ने ज्ञापन देकर अपनी व्यथा बताई। ज्ञापन देने आई एक महिला के आंखों में आंसू आ गए। इस पर उन्होंने कहा कि आपके आने से पहले ही मैंने पुलिस अधिकारियों को इस मामले में कार्रवाई का कह दिया है। उन्होंने उनके परिजनों का नाम बताकर भी मामले की जानकारी होना बताया। इसी तरह भू माफियाओं के जमीनों पर कब्जा करने को लेकर भी ज्ञापन दिया गया। उनका शहर के कई लोगों ने स्वागत किया। इस मौके कलक्टर अंशदीप, मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ. केसी अग्रवाल, डॉ. हरीश कुमार, पीएमओ डॉ. आरपी अरोड़ा आदि मौजूद थे।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned