दस साल बाद भी बायलॉज की पालना करवाने में नगर परिषद विफल

- वर्ष 2011 में बना था विवाह स्थल बायलॉज
- अधिकतर विवाह स्थलों में नहीं हैं बायलॉज के अनुसार सुविधाएं
- प्रभावशाली लोगों के विवाह स्थल होने से परिषद नहीं करती कार्रवाई

By: Suresh Hemnani

Published: 17 Mar 2021, 08:07 AM IST

पाली। लाखों की कमाई करने वाले विवाह स्थल तय बायलॉज के अनुसार संचालित हो, इस मंशा से 2011 में विवाह स्थल बायलॉज बनाया गया। लेकिन हकीकत यह है कि बायलॉज बनने के 10 वर्ष बाद भी नगर परिषद इसकी पालना करवाने में विफल ही साबित हुई है। अधिकतर विवाह स्थलों में पार्किंग सहित कई तरह की सुविधाओं का अभाव है। इससे आस-पास रहने वाले लोगों को परेशान होना पड़ता है।

आयुक्त को सीज करने तक का अधिकार
सरकार ने 2011 में विवाह स्थल बायलॉज लागू किए थे। इसके तहत सभी विवाह स्थलों का पंजीयन नगर परिषद में होना जरूरी है। इसकी अवहेलना करने पर नगर परिषद आयुक्त को विवाह स्थल को सीज करने और दस हजार रुपए का अर्थदण्ड लगाने का भी अधिकार है। हैरानी की बात है कि कई विवाह स्थल बिना पंजीयन ही चल रहे हैं। इससे परिषद को राजस्व हानि हो रही है।

जिम्मेदारों को निरीक्षण की भी फुर्सत नहीं
विवाह स्थल बायलॉज के अनुसार विवाह स्थल पर पार्किंग की सुविधा, आने-जाने के लिए दो रास्ते, अग्निशमन यंत्रों की सुविधा सहित कई व्यवस्था होनी चाहिए। लेकिन, जिम्मेदार अधिकारियों को विवाह स्थलों का निरीक्षण तक करने का समय नहीं है। जबकि पूर्व में इन्दिरा कॉलोनी स्थित एक विवाह स्थल में गैस सिलेण्डर में आग लगने से हडक़म्प मच गया था। गनीमत रही कि उस समय बड़ी घटना नहीं हुई।

विवाह स्थलों में यह होनी चाहिए व्यवस्था
- वाहन पार्किंग की समुचित व्यवस्था।
- महिला-पुरुषों के लिए अलग-अलग शौचालय व मूत्रालय।
- आने-जाने के लिए दो रास्ते होना चाहिए।
- अग्निशमन यंत्रों की पर्याप्त सुविधा होनी चाहिए।
- खाद्य तथा अखाद्य अपशिष्ट के लिए अलग-अलग कचरा संग्रहण की व्यवस्था।
- गंदे पानी की निकासी व्यवस्था।
- बिजली, पानी, जनरेटर व इमरजेंसी लाइट्स की सुविधा।
- वाटर हार्वेस्टिंग की सुविधा।

जांच के बाद करेंगे कार्रवाई
विवाह स्थलों की जांच करेंगे। कमियां मिलने पर नोटिस देकर व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए पाबंद करेंगे। - छैलकंवर चारण, आरओ, नगर परिषद, पाली

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned