सामूहिक अवकाश के साथ क्रमिक अनशन शुरू

रायपुर मारवाड़ . उपखण्ड क्षेत्र के तमाम महकमे के कनिष्ठ लिपिकों में अपनी मांगों के प्रति सरकार द्वारा ध्यान नहीं दिए जाने से आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

By: Satydev Upadhyay

Updated: 18 Aug 2017, 11:02 PM IST

रायपुर मारवाड़ . उपखण्ड क्षेत्र के तमाम महकमे के कनिष्ठ लिपिकों में अपनी मांगों के प्रति सरकार द्वारा ध्यान नहीं दिए जाने से आक्रोश बढ़ता जा रहा है। पिछले दस दिन से सामूहिक अवकाश पर चल रहे इन कार्मिकों ने शुक्रवार को तहसील कार्यालय के समक्ष क्रमिक अनशन शुरू कर दिया। इस मौके पर यह भी निर्णय लिया कि अगर समय रहते सरकार ने मांगे स्वीकार नहीं की तो इस क्रमिक अनशन को अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल में तब्दील कर दिया जाएगा।

राज्य मंत्रालयिक कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अनवर हुसैन व उपाध्यक्ष भरत शर्मा के नेतृत्व में तमाम कनिष्ठ लिपिक सवेरे तहसील कार्यालय के समक्ष एकत्रित हुए। यहां बैठक के रूप में सर्वसम्मति से निर्णय कर क्रमिक अनशन शुरू कर दिया। इसमें विभिन्न महकमों के कनिष्ठ लिपिक भी समर्थन देते हुए अनशन पर बैठे। यहां कार्मिकों ने दस दिन से सामूहिक अवकाश पर रहने व अपनी मांगे बार-बार रखने के बाद भी सरकार द्वारा सकारात्मक कदम नहीं उठाने पर आक्रोश जताया। कार्मिकों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। इस दौरान कनिष्ठ लिपिक शिवलहरी शर्मा, अरविंद दवे, मेघसिंह, नरेन्द्रसिंह, चेतन चौधरी, कैलाश कुमावत सहित अन्य कार्मिक मौजूद थे।

 

ठप हो रहा कामकाज
इन कार्मिकों के अवकाश पर रहने से विभिन्न महकमों में सरकारी कामकाज ठप हो रहा है। इससे राजस्व हानि होने के साथ ही आमजन को परेशानी हो रही है। बावजूद इसके सरकार गंभीर नहीं है।

...तो करेंगे भूख हड़ताल
तमाम महकमों के कनिष्ठ लिपिक पिछले दस दिन से सामूहिक अवकाश पर हैं। बावजूद इसके सरकार हमारी मांगे स्वीकार नहीें कर रही है। हमने क्रमिक अनशन शुरू कर दिया है। शीघ्र ही मांगे स्वीकार नहीं किए जाने पर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू करेंगे। 

भरत शर्मा, उपाध्यक्ष राज्य मंत्रालयिक कार्मिक संघ रायपुर


प्रेरक करेंगे बुनियादी परीक्षा का बहिष्कार

सोजत रोड. जिले की 321 ग्राम पंचायतों के लोक शिक्षा प्रेरक केन्द्रों पर 20 अगस्त को होने वाली साक्षरता परीक्षा का प्रेरक संघ बहिष्कार करेगा। संघ के जिलाध्यक्ष जगदीश सिंह राजपुरोहित ने बताया कि जिले के प्रेरकों को 2004 का बकाया मानदेय आज तक जिले के प्रेरकों को नही मिला है। मानदेय को लेकर 20 अगस्त को साक्षरता परीक्षा का बहिष्कार कर जिलेभर के सभी प्रेरक पाली जिला कलक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देंगे।

Satydev Upadhyay
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned