विज्ञान व वाणिज्य में बेटियों ने बेटों को पछाड़ा

12वीं विज्ञान व वाणिज्य वर्ग में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत रहा छात्रों से अधिक

By:

Published: 24 May 2018, 11:47 AM IST

84.80 प्रतिशत विज्ञान वर्ग व 91.13 प्रतिशत वाणिज्य में रहा जिले का परिणाम

पाली. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 12वीं विज्ञान व वाणिज्य वर्ग का परीक्षा परिणाम बुधवार शाम को घोषित किया गया। परिणाम घोषित होते ही अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों के चेहरों पर खुशी छा गई। वहीं अनुत्तीर्ण होने वाले बच्चे निराश हुए। जिले में वाणिज्य वर्ग का परीक्षा परिणाम 91.13 प्रतिशत व विज्ञान वर्ग का 84.80 प्रतिशत रहा। परिणाम घोषित होने के बाद अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होने पर माता-पिता के साथ अभिभावकों ने अपने बच्चों को बधाई दी और मिठाई खिलाकर मुंह मीठा करवाया। कई बच्चों ने मंदिरों में जाकर धोक भी लगाई और दोस्तों के साथ पार्टी का लुत्फ उठाया।
इतने बच्चों ने भरा था आवेदन

विज्ञान वर्ग की परीक्षा के लिए जिले में 3448 छात्रों व 1435 छात्राओं के साथ कुल 4883 आवेदन किया था। इनमें से 3410 छात्र व 1426 छात्राएं उपस्थिति रही और कुल 4101 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए। इसी तरह वाणिज्य वर्ग में 1003 छात्रों व 398 छात्राओं ने आवेदन किया था। इनमें से 984 छात्र व 392 छात्राएं परीक्षा में उपस्थित रही। इनमें से कुल 1254 विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए।

विज्ञान में दस व वाणिज्य में पांच सरकारी स्कूलों का परिणाम 100 प्रतिशत

विज्ञान व वाणिज्य वर्ग के घोषित परिणाम में जिले के स्कूलों की स्थिति भी सामने आ गई। विज्ञान वर्ग में जिले के दस स्कूलों का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा। वहीं वाणिज्य वर्ग में महज पांच स्कूल का परिणाम ही 100 प्रतिशत रहा। इसकी तुलना में निजी स्कूलों की स्थिति देखे तो 19 निजी स्कूलों का परीक्षा परिणाम शत प्रतिशत रहा। विज्ञान वर्ग में 11 निजी स्कूल ही शत प्रतिशत परिणाम दे सके। इधर, परीक्षा में 90 व उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों ने जीवन में लक्ष्य भी तय कर लिया है। विज्ञान वर्ग के अधिकांश छात्र डॉक्टर या इंजीनियर तो वाणिज्य वर्ग के छात्र सीएम बनना चाहते हैं।

अभावों में पढ़कर हासिल की कामयाबी
बाली के मनोज सीरवी के पास किताबों के अलावा कोई सुविधा नही हैं। उसके माता-पिता कमठे पर मजदूरी करते हैं। पिता को तपती धूप ओर कड़ाके की ठंड में मजदूरी करते देख, मन लगाकर पढऩे की ठानी। मनोज ने विज्ञान विषय में 96.60 प्रतिशत हासिल कर प्रतिभा सुविधाओं की मोहताज नही होती कहावत को चरीतार्थ किया हैं।

 


..........................................

यह रहा विज्ञान वर्ग का परीक्षा परिणाम
फस्र्ट डिवीजन

छात्र 1797
छात्राएं 965

सैकण्ड डिवीजन
छात्र 1036

छात्राएं 289
थर्ड डिवीजन

छात्र 3
केवल पास

छात्र 10
छात्राएं 1

कुल उत्तीर्ण
छात्र 2846

छात्राएं 1255
उत्तीर्ण प्रतिशत

छात्र 83.46
छात्राएं 88.01

..........................................
वाणिज्य वर्ग का परीक्षा परिणाम

प्रथम श्रेणी
छात्र 303

छात्राएं 199
द्वितीय श्रेणी

छात्र 502
छात्राएं 148

तृतीय श्रेणी
छात्र 82

छात्राएं 19
पास विद्यार्थी

छात्रा 1
कुल उत्तीर्ण

छात्र 887
छात्राएं 367

उत्तीर्ण प्रतिशत
छात्र 90.14

छात्राएं 93.62

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned