शिक्षक के प्रयास से बंजर भूमि पर लहलहा रही हरीतिमा

शिक्षक के प्रयास से बंजर भूमि पर लहलहा रही हरीतिमा
शिक्षक के प्रयास से बंजर भूमि पर लहलहा रही हरीतिमा

Rajendra Singh Rathore | Updated: 12 Oct 2019, 12:49:51 AM (IST) Pali, Pali, Rajasthan, India

- 800 में से छह सौ पौधे अब भी हैं जीवित : झालामण्ड के संस्था प्रधान कुमावत ने ग्रामीणों की मदद से रोपे थे पौधे अब बने पेड़

बाबरा। पथरीली व कभी बंजर भूमि नजर आने वाली जगह पर कतारबद्ध तरीके से रोपे पौधों ने अब पेड़ का रूप ले लिया है। देखने में अब ऐसा लगता है कि इस जगह पर बगीचा नहीं, बल्कि बगीचे के बीच में बना हुआ है विद्यालय है।
ये स्थिति बाबरा पंचायत के छोटे से गांव झालामण्ड के राजकीय प्राथमिक विद्यालय की है। छह वर्ष पूर्व इस विद्यालय में बतौर संस्था प्रधान पदस्थापित हुए शिक्षक रणजीत कुमावत ने ग्रामीणों व विद्यार्थियों के सहयोग से सघन पौधरोपण किया। एसएमसी अध्यक्ष पुखराज गुर्जर, शैतानराम गुर्जर, साबूराम, शिवलाल गुर्जर, बलदेवराम गुर्जर, मोडाराम गुर्जर सहित ग्रामीणों को प्रेरित कर विद्यालय की टूटी चार दीवारी की मरम्मत, खेल मैदान का समतलीकरण, बरामदा व कक्षा-कक्ष के आंगन में कोटा स्टोन पत्थर बिछवाए। स्कूल परिसर में खुदे हैडपंप पर ग्रामीणों की मदद से विद्युत मोटर सहित बिजली कनेक्शन जुड़वाने व भवन में बिजली फिटिंग के कार्य करवाए। इन्होंने विद्यालय में पांच साल में करीब आठ सौ पौधे लगाए। जिनमें से करीब साढ़े छह सौ पौधे अब पेड़ बन चुके हैं। विद्यालय के मैदान में हरियाली है। विद्यालय परिसर में घुसते ही गेट से लेकर भवन व कार्यालय तक हरियाली ही दिखाई देती है।

विद्यार्थियों को सौंपी जिम्मेदारी
पर्यावरण के संरक्षण के लिए विद्यार्थियों को प्रेरित कर प्रतिदिन शपथ दिलाकर विद्यालय में रोपे हुए पौधों की सार-संभाल का जिम्मा तक सौंप रखा है। ताकि पर्यावरण की दृष्टि से विद्यालय का चमन खिला रहे।

पौधों को भी दी सुरक्षा
कभी बंजर व ऊबड़-खाबड़ स्कूल मैदान के समतलीकरण के लिए ग्रामीणों की मदद से दो सौ ट्रैक्टर-ट्रोली मिट्टी डलवाकर मैदान को समतल करवाया। इसके बाद स्कूल में नीम, अशा

इनका कहना
विद्यालय विकास के साथ विद्यालय परिसर में सघन पौध रोपण के लिए प्रेरित हुए ग्रामीणोंं का बड़ा सहयोग रहा। ग्रामीणों द्वारा समय-समय पर किए आर्थिक सहयोग के साथ विद्यार्थियों की मेहनत से हरियाली लहलहा रही है। हरियाली को बढ़ावा देने के साथ बेहतर शिक्षण के प्रयास जारी रहेंगे।
रणजीत कुमावत, प्रधानाध्यापक, राप्रावि झालामण्डे

क, शीशम, पीपल जैसे छायादार पौधे लगाए जो अब लहलहा रहे है।

पुष्कर तथा वन नर्सरी से लाए अनार, नीम्बू, रेलिया, बोटलपाम, चांदनी, कनेर जैसे फूलदार व पत्तीदार पौधे भी अब विद्यालय की शान बढ़ा रहे हैं। रोपे हुए पौधों के चारों तरफ कोटा स्टोन पत्थर से आकर्षक चार सुरक्षा घेरा बना रखा है। जो पौधों की शोभा बढ़ा रहे हैं। विद्यालय मैदान में लगाई हरी घास मन को सुकून दे रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned