कोरोना का असर : गाड़ियां बंद, काम-धंधा ठप

- सुविधाओं के अभाव में परेशान यात्री

By: Suresh Hemnani

Published: 30 Aug 2020, 02:32 PM IST

पाली/मारवाड़ जंक्शन। कोरोना महामारी के चलते बन्द पड़ी रेलगाडिय़ों की वजह से कई लोगों का रोजगार छिन गया है। स्थानीय रेलवे स्टेशन रेलगाडिय़ों के अभाव में सूना पड़ा है। रेलवे जंक्शन होने की वजह से यहां प्रतिदिन सैकड़ों रेलगाडिय़ों का आना जाना होता था।

इसी जंक्शन से देश के चारों दिशाओं के रेलागाडिय़ों का आवागमन था परन्तु कोरोना काल की वजह से गाडिय़ों की संख्या अब कम हो गई। रेलगाडियों के थमने से यहां रोजगार चला रहे लोगों की रोजी छिन गई। प्रतिदिन कमा कर खाने वाले लोगों को इन दिनों भटकना पड़ रहा है। रेलवे स्टेशन पर चाय, नाश्ता, खाना, पानी की बोतलें बेचने वालों के कार्य इन दिनों बंद होने की वजह से वे भटक रहे हैं। इसी प्रकार विभिन्न रेलवे स्टेशनों के बाहर पार्किंग स्थल पर रेलयात्रियों का इंतजार करने वाले वाहन चालक भी बेरोजगार हो चुके हैं।

उठ रही फुट ओवरब्रिज की मांग
कस्बा तीन भागों में बंटा होने के कारण ग्रामीणों की रेलवे विभाग के प्रति बार-बार मांगे उठती रहती हैं। डब्ल्यूआर गेट पर चार रेलवे लाइन स्थित हैं। इसके कारण पूर्वी भाग में काजीपुरा, रामनगर मौहल्ला, जिनेन्द्र विहार, सुभाष चौक, आऊवा रोड, रजत जयंती मौहल्ला सहित अन्य मौहल्लों के लोगों को दूसरी ओर आने में काफी परेशानी होती है। सांई दर्शन सेवा संस्थान के अध्यक्ष देवेन्द्रसिंह मीणा व ग्रामीणा द्वारा डाक बंगले से पोस्ट ऑफिस की तक फुट ओवरब्रिज या अण्डरब्रिज व ओवरब्रिज बनाने की मांग की जा रही है।

सौंपा ज्ञापन
श्रीसाई दर्शन सेवा संस्थान के मीणा के नेतृत्व में संस्था के सदस्यों ने रेल मंत्री के नाम का ज्ञापन स्टेशन प्रबंधक परशुराम मीणा को सौंपा। उन्होने ज्ञापन में जरिए रेलगाडिय़ों का संचालन शुरू करने की मांग की है।

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned