बिग बी के सामने हॉट सीट पर बैठने का झांसा, पाकिस्तान से आ रही फेक कॉल

- बदल दिया ठगी का तरीका, अब कर रहे वॉट्सएप पर वॉइस कॉल

Fake calls coming from Pakistan for KBC :
- पुलिस की अपील, ऐसे कॉल रिजेक्ट करने के साथ करें ब्लॉक

By: Suresh Hemnani

Updated: 27 Nov 2019, 12:41 PM IST

पाली/रायपुर मारवाड़। Fake calls coming from Pakistan for KBC : पाकिस्तान के नम्बर से कॉल कर ऑनलाइन ठगी [ Online Cheating ] करने वाले गिरोह के निशाने पर अब पाली जिला है। जी हां, इस गिरोह ने ठगी का नया तरीका इजाद कर लिया है। अब सीधा कॉल नहीं कर ये वॉट्सएप पर वॉइस कॉल [ Voice call ] कर रहे हैं। ठगी से बचने के लिए आप ऐसे कॉल को अटेंड करने की बजाय रिजेक्ट कर देवे। साथ उस नम्बर को वॉट्सएप [ Whatsapp ] पर ब्लॉक कर देवे। वॉट्सएप पर ये गिरोह मेसेज कर लिंक भेज रहे है उसे खोले बगैर डिलीट कर देवे। ऐसे मैसेज को ओपन करने से आपके मोबाइल का सारा डेटा गिरोह द्वारा कॉपी कर उसका मिसयूज किया जा सकता है।

मारवाड़ के लोग निशाने पर
मंगलवार सुबह जिले के अलग अलग गांवो के एक दर्जन लोगों के मोबाइल पर ़92 नम्बर दे वॉट्सएप कॉल आई। जिन्होंने ये कॉल अटेंड किया उन्हें युवक में अपना नाम राजेश बताया। अपने आप को केबीसी ग्रुप से जुड़ा बता कर मोबाइल नम्बर केबीसी चयन टीम द्वारा सलेक्ट करना बताया। इस युवक ने केबीसी के जरिए करोड़पति बनने के लिए कुछ शर्तें रखी। इस कम्पीटिशन में हिस्सा लेने के लिए 50 हजार रुपए की राशि अकाउंट नम्बर में जमा कराने की बात कही। जबकि केबीसी में चयन प्रक्रिया अलग है। इस तरह मोबाइल नम्बर का चयन कर किसी को भी कम्पीटिशन में शामिल नही किया जाता।

यकीन किया तो होगा बड़ा नुकसान
पत्रिका ने इस तरह के कॉल के बारे में पड़ताल की। जिसमे सामने आया कि 92 पाकिस्तान का ही कोड है। ये कॉल ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह द्वारा ही किया जा रहा है। ऐसे कॉल को अटेंड करने की बजाय रिजेक्ट कर ब्लॉक करने से ही आप ठगी से बच सकते है।

डेटा गया तो भी होगा नुकसान
मारवाड़ क्षेत्र में काफी लोग अपने बैंक खाता नम्बर, एटीएम के पासवर्ड, आधार कार्ड नम्बर सहित कई गुप्त जानकारी अपने मोबाइल फोन में ही सेव रखते हैं। गिरोह द्वारा ये गोपनीय जानकारी हासिल करने के लिए वॉट्सएप पर लिंक मैसेज कर रहे हैं। इस मैसेज को ओपन करने से मोबाइल डेटा वे कॉपी कर लेते हैं। ऐसे में सावधानी बरतें व हर किसी मैसेज का लिंक ओपन नहीं करें।

अलर्ट रहने की जरूरत
निश्चित रूप से ये ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह की हरकत है। पाकिस्तान नम्बर से आने वाले व्हाट्सएप वॉइस कॉल अटेंड नहीं करें। ऐसे कॉल को रिजेक्ट कर उसे व्हाट्सएप पर ही ब्लॉक कर देंवे। वॉट्सएप पर किसी तरह का लिंक मैसेज आए तो उसे ओपन नहीं करें। फे क कॉल से जिलेवासियों को सावधान रहने की जरूरत है। -आनन्द शर्मा, पुलिस अधीक्षक, पाली

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned