घटाओं की खामोशी, किसानों को बारिश का इंतजार

-मारवाड़-गोडवाड़ में मानसून का अभाव

By: Suresh Hemnani

Updated: 20 Jul 2020, 03:23 PM IST

पाली/निमाज। जिले के निमाज कस्बे समेत क्षेत्र में घटाओं की खामोशी रविवार को भी नहीं टूटी। मौसम में उमस और गर्माहट ने पसीने बहा रही है। वहीं काले बादल मुंह चिढ़ा रहे हैं। हवा चलने से थोड़ी राहत महसूस की जा रही हैं। पिछले सप्ताह भर से क्षेत्र में बारिश नहीं हुई है।

पिछले सप्ताह जरूर थोड़ी बारिश हुई थी, लेकिन बुवाई के लिहाज से वो भी पर्याप्त नहीं थी। अब सप्ताह भर से बारिश का दौर थम हुआ है। क्षेत्र में घनघोर बादल खामोशी ओढ़े हुए है। धूप-छांव का दौर बना हुआ है। उल्लेखनीय है कि मानसून के लिहाज से राजस्थान में जुलाई, अगस्त व सितंबर अहम है। इस दौरान होने वाली बारिश से किसानों को फसलों के लिए पानी मिलता है। साथ ही लोगों को सालभर पीने का पानी उपलब्ध होता है।

अभी तक नहीं हुई है बुवाई
किसान मांगीलाल, जोगाराम का कहना है कि पिछले दिनों हुई बारिश के बाद कई किसानों ने खेतों में बुवाई कर दी थी। इसी दौरान बारिश के दौर ने उनकी किए कराए पर पानी फेर दिया। वहीं क्षेत्र के कई खेतों में तो अभी तक बुवाई भी नहीं हुई है। जहां बुवाई हो चुकी है, वहां अब बारिश का किसानों को बेसब्री से इंतजार है। बरसात नहीं होने से किसानों की चिंता भी बढ़ रही है। कई किसान खेतों में बीज बो चुके हैं। बारिश नहीं होने पर उन्हें बीज खराब होने का डर सता रहा है।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned