पहले गलती की, अब सुधारने का कर रहे प्रयास

जलदाय विभाग ने समय पर नहीं बांटे बिल, बढ़ाई अंतिम तिथि

By: Rajeev

Published: 14 Oct 2021, 08:59 PM IST

पाली. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की शहरी जल प्रदाय योजना के तहत पाली शहर के उपभोक्ताओं को पानी के बिल वितरित किए गए थे। जिसे जमा कराने की अंतिम तिथि 14 अक्टूबर तय थी, लेकिन विभाग की ओर से तय समय में बिजली के वितरित नहीं किए जा सके। ऐसा लगातार दूसरी बार हुआ है। जब विभाग ने बिल समय पर नहीं बांटे है। इस कारण विभाग को मजबूरी में बिल राशि जमा कराने की अंतिम तिथि बढ़ानी पड़ी है। अब उपभोक्ता 22 अक्टूबर तक पानी के बिल जमा करवा सकते है।
चार माह का बिल दिया एक साथ

जलदाय विभाग की ओर से उपभोक्ताओं को दो-दो माह का बिल देना होता है, लेकिन विभाग समय पर बिल नहीं बनवा पा रहा है। ऐसे में इस बार चार माह का बिल (मई से अगस्त तक) एक साथ दिया गया। जिससे उपभोक्ताओं पर दिवाली से पहले आर्थिक बोझ बढ़ा है। इसके बाद विभाग समय पर बिल भी नहीं बांट पाया।
यह तय की थी तिथियां

जन स्वास्थ्य अभियान्त्रिकी विभाग की सहायक अभियन्ता शोभा कुमारी ने बताया कि मई से अगस्त तक चार माह के बिल भुगतान की संशोधित अन्तिम तिथि 6 से 8 अक्टूबर व 12 से 14 अक्टूबर नियत थी। इन निर्धारित तिथियों तक बिल वितरण नहीं होने जल शुल्क जमा करने की अन्तिम तिथि 22 अक्टूबर की गई है।

गांव में व्यर्थ बह रहा पानी

पाली. जिले में जल संकट गहराया हुआ है। इसके बावजूद जलदाय विभाग व ग्राम पंचायतों की ओर से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। रोहट पंचायत समिति के ढाबर गांव में पिछले कई दिनों से पानी की पाइप लाइन क्षतिग्रस्त है। इस कारण पानी व्यर्थ बह रहा है। पानी के बहाव के कारण सड़क पर कीचड़ फैल रहा है। दूसरी तरह गांव के कई क्षेत्रों में पर्याप्त पेयजल आपूर्ति तक नहीं हो रही है। इससे ग्रामीणों को जल संकट का सामना करना पड़ रहा है।

Rajeev Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned