बर्तन बेचने के बहाने गांव में आई महिलाएं, इनाम का लालच देकर दे दिया इस वारदात को अंजाम

-करीब एक दर्जन महिलाओं से 24 तोला सोना व 6 किलो चांदी के गहनों की ठगी

By: Suresh Hemnani

Updated: 17 Dec 2020, 08:39 AM IST

पाली। जिले में ठग गिरोह सक्रिय हो गया है। ठग पुलिस को भी ठेंगा दिखा रहे हैं। पाली व सुमेरपुर की घटना के बाद आसपास के गावों में ठगी की कई वारदातें सामने आई है। सदर थाना क्षेत्र के जवडिय़ा व रूपावास गांव में सोमवार को बर्तन बेचने आई महिलाएं इनाम का लालच देकर करीब एक दर्जन महिलाओं से लाखों रुपए के गहने लेकर फरार गई। सदर पुलिस थाने में अज्ञात महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि तीन महिलाएं दो-तीन दिन से रोजाना गांव में बर्तन बेचने के लिए आ रही थी। गहने लेकर फरार होने के बाद से उनका अता पता नहीं है। ठग महिलाएं करीब एक दर्जन घरों से 24 तोला सोना और 6 किलो चांदी लेकर फरार हो गई।

थानाप्रभारी भंवरलाल पटेल ने बताया कि जवडिय़ा के ग्रामीणों ने रिपोर्ट दी कि दो-तीन महिलाएं बर्तन बेचने के लिए कुछ दिन से गांव में घूम रही थी। रविवार को बर्तन बेचने वाली महिलाओं ने कई घरों में टूटे-फूटे बर्तनों को बदलकर नए बर्तन दिए। साथ ही महिलाओं को पुराने गहनों की अच्छी डिजाइन पर इनाम का प्रलोभन दिया। महिलाएं उनके बहकावे में आ गई। कई महिलाओं ने कम कीमत के छोटे- छोटे सोने-चांदी के जेवरात उन्हें दे दिए। दोनों महिलाएं गहने लेकर चली गईं। अगले दिन वापस आई और गांव की महिलाओं को उनके गहने वापस कर दिए। इनाम के रूप में किसी को नए बर्तन तो किसी को पैसे दिए। महिलाओं को विश्वास में लिया और अच्छी डिजाइन के कीमती जेवरात पर बड़ा इनाम देने का लालच दिया। करीब आठ-दस महिलाएं लालच में आ गई। उन्हें अपने कीमती जेवरात सौंप दिए। जेवर लेकर महिलाएं फरार हो गई। अगले दिन जब वे वापस नहीं आई तो गांव की महिलाओं को संदेह हुआ। उन्होंने ग्रामीणों को पूरी बात बताई।

भावनात्मक ब्लैक मेल भी किया
इनाम के नाम पर गहने लेकर फरार हुई ठक महिलाओं ने गांव में भावनात्मक कार्ड भी खेला। उन्होंने घरों में कहा कि वे कल इनाम लेकर आएंगी और खाना भी यहीं खाएंगी। महिलाओं ने उनकी बातों पर विश्वास किया और जेवरात सौंप दिए। मंगलवार को जब ठग महिलाएं गहने लेकर वापस नहीं लौटी तो आशंका हुई। उन्होंने परिजनों को घटनाक्रम से अवगत कराया। ग्रामीणों ने पुलिस को इत्तला दी। सदर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ठगी की शिकार हुए महिलाओं के बयान लिए।

ग्रामीण हुए एकत्रित
घटना के बाद जवडिय़ा और रूपावास गांव के लोग एकत्रित हुए। उन्होंने पुलिस को सूचना देने के साथ-साथ अपने स्तर पर भी ठग महिलाओं की तलाश शुरू की। ग्रामीणों ने पुलिस को हुलिया भी बताया।

पुलिस ने जारी किया फोटो
पुलिस ने एक महिला का फोटो भी जारी किया है। पुलिस ने ग्रामीणों से ऐसी महिलाओं से सतर्क रहने की भी अपील की है। सदर थानाप्रभारी भंवरलाल पटेल ने बताया कि गांव के आसपास कई जगह तलाश की गई। अज्ञात महिलाओं के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।

ये हुए ठगी के शिकार
- पीरसिंह पुत्र केशरसिंह के घर से सास-बहू के चार तोला सोना के जेवरात लिए।
- पारसराम पुत्र गोकलराम माली के घर से पुत्री व बहू के चार तोला सोना व सात सौ ग्राम चांदी के आभूषण लेकर फरार।
- सुगनलाल पुत्र गमाराम सुथार के दो तोला सोना व चार सौ ग्राम चांदी के आभूषण ठग लिए।
- लक्ष्मणराम पुत्र भपलाराम मेघवाल के यहां से दौ सौ पच्चास ग्राम चांदी के आभूषण ठग लिए।
- अशोक पुत्र सुगनाराम वादी के यहां से एक सौ बीस ग्राम चांदी के आभूषण अज्ञात महिलाएं ठग कर ले गई।
- सोनाराम पुत्र भोमाराम के परिवार में उसकी पत्नी व तीन पुत्रों की पत्नियों से करीब नौ तोला सोना के आभूषण व लगभग दो किलो सात सौ ग्राम चांदी के आभूषण ठगे।
- ढलाराम पुत्र भैराराम घांची के यहां से तीन सौ ग्राम चांदी के आभूषण महिलाएं ठग कर ले गई।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned