पाली : बदहाली के शिकार लाखोटिया तालाब के घाट, कचरे के लगे ढेर

- तालाब के घाटों पर रहती है दिनभर लोगों की भीड़
- जिम्मेदार नहीं दे रहे ध्यान

 

By: Suresh Hemnani

Published: 16 Oct 2020, 09:08 AM IST

पाली। शहर के लाखोटिया तालाब के घाट इन दिनों कचरे से अटे पड़े है। कई दिनों से सफाई नहीं हुई है। कचरे व गंदगी के कारण लोग तालाब के किनारे सुकून से बैठ भी नहीं सकते है। गंदगी के कारण दिनभर दुर्गंध उठती रहती है। लेकिन, जिम्मेदार मौन धारण किए बैठे हैं।

शहरवासियों की मानें तो तालाब की साफ सफाई नियमित रूप से नहीं हो रही है। तालाब में प्लास्टिक की थैलियां व कचरा पड़ा है। गंदगी के कारण लाखोटिया तालाब अपना वजूद खोता जा रहा है। शहर का एक मात्र घूमने का स्थान है। वह भी उपेक्षा का शिकार है। लोगों ने आरोप लगाया कि नगर परिषद प्रशासन तालाब की सफाई को लेकर गंभीर नहीं है।

परिवार के साथ बैठ नहीं सकते
तालाब के घाट पर गंदगी पसरी हुई है। कई दिनों से सफाई नहीं हुई है। परिवार के साथ तालाब पर बैठ नहीं सकते है। चारों तरफ गंदगी का आलम है। -अंकुर मेहता

दुर्गंध से परेशानी
तालाब में काफी ज्यादा गंदगी है। गंदगी के कारण दिनभर दुर्गंध उठती रहती है। तालाब पर मॉर्निंग वॉक करने में काफी ज्यादा परेशानी आती है। -प्रिया शर्मा

नगरपरिषद प्रशासन उदासीन
तालाब पर गंदगी फैली हुई है। नगरपरिषद प्रशासन तालाब को लेकर गंभीर नहीं है। शहर का एक मात्र तालाब भी उपेक्षा का शिकार हो रहा है। -रुकमा चौहान

होती है परेशानी
तालाब के घाट पर गंदगी काफी ज्यादा है। मछलियों को दाना भी नहीं खिला पाते है। घुमना तो दूर की बात है। एक मात्र घूमने का स्थान है। लेकिन नगर परिषद प्रशासन के कारण तालाब गंदगी में तब्दील हो रहा है। -दिनेश भाटी

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned