पुलिस चौकी के निकट बजरी का स्टॉक, पुलिस जानकर भी बन रही अनजान

Avinash Kewaliya

Publish: Dec, 07 2017 01:55:56 (IST)

Pali, Rajasthan, India
पुलिस चौकी के निकट बजरी का स्टॉक, पुलिस जानकर भी बन रही अनजान

- रात के अंधेरे में लाम्बिया के निकट बजरी का किया जा रहा अवैध खनन

 

 

- कार्रवाई को लेकर सदर व कोतवाली थाना पुलिस ने साधा मौन

पाली .

रात के अंधेरे में लाम्बिया के निकट नदी से अवैध रूप से बजरी का खनन किया जा रहा है। खास बात ये है कि खनन माफिया इस बजरी का स्टॉक ट्रांसपोर्ट नगर पुलिस चौकी के निकट सहित नया गांव रोड किनारे ही कर रहे हैं। लेकिन, कार्रवाई तो दूर, सब कुछ जानकर भी कोतवाली व सदर थाना पुलिस अनजान बन रही है। इस अनदेखी से खनन माफियाओं की मौज बनी हुई है, तो जरूरतमंद आमजन को मकान निर्माण के लिए मुंहमांगे दामों पर बजरी खरीदनी पड़ रही है।
दरअसल, बजरी खनन पर सुप्रीम कोर्ट ने बिना पर्यावरण मंजूरी के रोक लगा रखी है। लेकिन, पाली शहर सहित जिले भर में रात के अंधेरे में चोरी-छीपे खनन जारी है। जिम्मेदारों की इस अनदेखी से सरकार को राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

सीसीटीवी फुटेज में कैद अवैध गतिविधियां

पुलिस अवैध खनन नहीं होने की बात कह रही है। लेकिन, हकीकत यह है कि रात के अंधेरे से लेकर दिन के उजाले में भी अवैध रूप से बजरी परिवहन करते हुए ट्रैक्टर ट्रॉली नजर आ जाते है। ट्रांसपोर्ट नगर के बाहर लगे ार्म कांटे पर लगे सीसीटीवी कैमरे में बजरी से भरे हुए एक नहीं कई ट्रैक्टर-ट्रॉली निकलते नजर आ रहे हैं। बावजूद इसके जिम्मेदार कार्रवाई से बच रहे हैं।

अवैध रूप से वसूली जा रही रॉयल्टी

बजरी खनन पर रोक के बावजूद अवैध रूप से खनन करने वालों से कई जने बिना किसी वैध अधिकार के रॉयल्टी के नाम पर राशि भी वसूल रहे है। ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरकर बजरी सदर थाना क्षेत्र व कोतवाली थाना क्षेत्र होकर शहर में पहुंच रही है।

एेसा मामला है तो दिखवाता हूं

पुलिस चौकी के निकट ही अवैध बजरी का स्टॉक किए जाने की जानकारी मुझे नहीं है। एेसा है तो तुरंत प्रभावी कार्रवाई करवाता हूं।

- दीपक भार्गव, पुलिस अधीक्षक, पाली

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned