कुंभलगढ़ के वन्य जीव अभयारण्य क्षेत्र में दिखने लगे हैं ‘ग्रीन कैमेलियन’, क्या है ये, जानिए पूरी खबर

-वर्षा के मौसम में पेड़ों से नीचे प्रजनन के लिए आते हैं

By: Suresh Hemnani

Published: 01 Jul 2019, 05:50 PM IST

पाली/देसूरी। कुंभगलढ वन्यजीव अभयारण्य में बरसात के मौसम के दस्तक देने के साथ ही ग्रीन कैमलियन दिखाई देते हैं। क्योंकि यह अधिकतर समय पेड़ों पर ही रहते हैं,वर्षा के मौसम में पेड़ों से नीचे प्रजनन करने के लिए आते हैं। इन दिनों अम्यारण्य में यह ग्रीन कैमेलियन देखे जा सकते हैं।

ग्रीन कैमेलियन के पैर पक्षियों की तरह होते हैं, जिसमें दो पंजे आगे की ओर दो पीछे ही ओर होते हैं। जिनपर यह दाएं बांए झूलती हुई चलती है। इसकी जीभ बहुत लम्बी और तेजी से बाहर आने वाली होती है, जिससे यह कीट व अन्य ग्रास पकड़ते हैं। जबकि इसकी आंखे अलग-अलग नियंत्रित होती है, लेकिन शिकार करते समय संगठित रूप में एक साथ काम करती है।

जब कैमेलियन को कोई खतरा महसूस होता है, तो उसके शरीर के तापमान में बदलाव होते है और क्रोमेटोफोर्स कोशिकाएं फैलती और सिकडुती है। जिससे त्वचा रंग बदलते रहता है। ग्रीन कैमेलियन अधिकतर समय पेड़ों पर ही नजर आता है। वर्षाकाल शुरू होते ही वह पेड़ों से नीचे धरातल पर आ जाता है। इन दिनों अभयारण्य में यह जीव नजर आने लगा है।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned