चिकित्सकों की वापसी से सुधरी अस्पतालों की सेहत

-पीएमओ ने सभी हड़ताली चिकित्सकों को दिलवाई सामूहिक ज्वाइनिंग

- फिर से बढ़ गया ओपीडी का आंकड़ा

By: Avinash Kewaliya

Published: 14 Nov 2017, 11:57 AM IST

पाली.

सेवारत चिकित्सकों के प्रांतव्यापी आह्वान पर हड़ताल पर गए चिकित्सक सोमवार को जिलेभर में अपने-अपने संस्थानों में काम पर लौट आए। इससे प्रमुख सरकारी अस्पतालों के साथ पीएचसी पर भी ओपीडी में मरीजों की आमद का आंकड़ा बढ़ गया। ग्रामीण क्षेत्रों में गंवई लोगों ने चिकित्सकों के काम पर लौटने पर खुशी जाहिर की तो शहरी क्षेत्रों में अस्पतालों की सेहत फिर से सुधरने की उम्मीद बंध गई। जिला मुख्यालय के बांगड़ अस्पताल में पीएमओ डॉ. एम. एस. राजपुरोहित ने सभी चिकित्सकों को सामूहिक ज्वाइनिंग करवाई। चिकित्सकों के काम पर लौटने के बाद सोमवार को अस्पताल की ओपीड़ी बढ़ गई। ओपीडी सहित सभी वार्ड एक बार फिर से अपनी लय में आ गए। सोमवार को अस्पताल की ओपीडी 700 मरीजों तक पहुंच गई। लम्बे समय से बंद पड़ी सोनोग्राफी सहित अन्य सुविधाओं के ताले खुल गए और मरीजों को राहत मिली।

घट गया था मरीजों का आंकड़ा

सेवारत चिकित्सकों के आंदोलन की वजह से जिले के सबसे बड़े बांगड़ अस्पताल में ओपीडी का आंकड़ा घटकर तीन सौ से चार सौ रह गया था। मेडिकल कॉलेजों के चिकित्सकों की ओर से परामर्श लिखने के बावजूद अस्पतालों में मरीज पहुंचना कम हो गए थे। बांगड़ में रोजाना ओपीडी का आंकड़ा 1200 से 1300 के बीच रहता रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों की पीएचसी और सब अस्पतालों में भी चिकित्सकों की ज्वॉइनिंग के बाद ग्रामीणों ने राहत महसूस की है। इन दिनों वायरल और मौसमी बीमारियों के कहर के बीच चिकित्सकों के आंदोलन का असर ग्रामीण क्षेत्र में ज्यादा देखने को मिल रहा था।

रक्तदान शिविर आज

पाली. नेहरू युवा केंद्र के तत्वावधान में मंगलवार को रक्तदान शिविर का आयोजन होगा। शिविर नेहरू युवा केंद्र के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में होगा। स्वयंसेवक नीतेश तोशावरा ने बताया कि कार्यक्रम में कई युवा रक्तदान करेंगे। इस कार्यक्रम में विधायक ज्ञानचंद पारख, यूआईटी चेयरमैन संजय ओझा, सभापति महेंद्र बोहरा, प्रधान श्रवण बंजारा, उपप्रधान नरेंद्रसिंह व निशांत दवे शिरकत करेंगे।

Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned