राजस्थान के पाली शहर में भी बाढ़ जैसे हालात, कई ट्रेनें रास्ते में अटकी हुई

राजस्थान के पाली शहर में भी बाढ़ जैसे हालात, कई ट्रेनें रास्ते में अटकी हुई

Santosh Kumar Trivedi | Updated: 16 Aug 2019, 11:39:24 AM (IST) Pali, Pali, Rajasthan, India

Heavy Rain In Rajasthan: हाड़ौती के बाद राजस्थान के पाली शहर में भी बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। पाली में मूसलाधार बारिश के चलते शहर की कई बस्तियां जलमग्न हो गई हैं।

पाली। Heavy Rain In Rajasthan: हाड़ौती के बाद राजस्थान के पाली शहर में भी बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। पाली में मूसलाधार बारिश के चलते शहर की कई बस्तियां जलमग्न हो गई हैं। लोगों का घरों से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। हालांकि प्रशासन पानी निकासी का प्रयास कर रहा है, लेकिन अभी भी जारी मूसलाधार बारिश से हालात और बिगड़ सकते हैं। पाली के निकट बोमाडरा पर बारिश के कारण रेलवे ट्रेक के नीचे भूमि कटाव हो गया है, जिससे कई ट्रेनें प्रभावित हो गई हैं। बांद्रा, राणकपुर समेत कई ट्रेनें रास्ते में अटकी हुई हैं।

 

राजस्थान के हाड़ौती में लगातार भारी बारिश से पहले से ही बाढ़ के हालात बने हुए हैं। चारों जिलों की सभी बड़ी नदियां जबरदस्त उफान पर होने से प्रमुख मार्ग बंद हो गए हैं। कोटा में 24 घंटे में 6 इंच बारिश दर्ज की गई है। कैथून में बाढ़ से हालात बिगड़ गए हैं। घरों में 4 से 5 फीट पानी भर गया है। सड़कें दरिया बन गई। हालातों को देखते हुए जिला कलक्टर ने सेना से मदद मांगी है। वहीं, एनडीआरएफ टीम राहत कार्य में जुटी हुई है। मौसम विभाग ने आगामी दो दिन यानी 17 अगस्त तक रेड अलर्ट जारी किया है।


जिला प्रशासन ने कैथून व आसपास के क्षेत्रों में बाढ़ के हालात देखते हुए आगामी दो दिन सभी विद्यालयों में अवकाश की घोषणा की है। प्रशासन ने संस्था प्रधानों को निर्देश दिए हैें कि वे स्थिति देखते हुए अपने स्तर पर स्कूलों में अवकाश घोषित कर सकते हैं ताकि किसी भी तरह की विपरीत परिस्थितियां उत्पन्न न हो सके। रानपुर स्थित तालाब पांच साल में पहल बार लबालब हुआ है। जोरदार बारिश की आवक होने से तालाब पर चादर चलने लगी है।

 

प्रशासन द्वारा शहर में सभी निचले इलाकों के रहने वालों को सुरक्षित स्थान पर जाने की सलाह दी जा रही है। भारी बारिश से कोटा-झालावाड़, कोटा-सांगोद, बारां-झालावाड़, बपावर-झालावाड़, सिमलिया-देवली (सांगोद) मार्ग बंद हो गए हैं। यहां प्रमुख नदिया उफान पर होने से जिला मुख्यालय से सम्पर्क कट गया है। वहीं, कोटा-बारां फोरलेन और कोटा-जयपुर फोरलेन हाइवे ही हैं चालू हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned