Heavy rain in pali : पाली में बाढ़ के हालात, कई ट्रेनें रास्ते में अटकी, प्रशासन हुआ अलर्ट, देखें पूरा वीडियो

Suresh Hemnani | Publish: Aug, 16 2019 05:05:46 PM (IST) Pali, Pali, Rajasthan, India

-पाली जिले में बीती रात से हो रही तेज बारिश से जवाई सहित अन्य बांधों में पानी की आवक बढऩे लगी है

Flood Situation In Pali Rajasthan :
-जोधपुर-पाली रेल मार्ग हुआ अवरुद्ध, रास्ते में अटकी ट्रेनों में यात्री परेशान
-शहर की कई बस्तियां हो गई जलमग्न, लोगों के घरों में भर गया है पानी

पाली। Flood Situation In Pali Rajasthan : बीती रात से शहर सहित जिले में हो रही बारिश से हालात बुरे होने लगे हैं। शहर की कई बस्तियां जलमग्न हो गई है। लोगों के घरों में पानी भर गया है। इससे लोग सुरक्षित स्थानों पर जाने लगे हैं। वहीं रेलवे पटरियों पर पानी का भराव होने से जोधपुर-पाली रेल मार्ग अवरूद्ध हो गया है। इससे कई ट्रेनें रास्ते में अटकी हुई है। इससे यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। ट्रेनों में फंसे यात्रियों के लिए भोजन के पैकेट भी तैयार किए जा रहे हैं। लगातार हो रही बारिश से पाली शहर में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। विभिन्न समाजों व संगठनों के लोग भी सेवा में जुट गए है। बारिश के हालात को देखते हुए जिला प्रशासन भी अलर्ट हो गया है।

ट्रेनों का बदला मार्ग
जोधपुर रेल मंडल के पाली-जोधपुर रेल मार्ग अवरूद्ध हो गया है। इससे कई ट्रेनें जिले में अटक गई हैं। शहर के रेलवे स्टेशन के आसपास की पटरियां भी पूरी तरह से पानी में डूब गई है। इससे ट्रेनों के आवागमन में भी परेशानी हो रही है। बिकानेर-बांद्रा पाली के रेलवे स्टेशन पर खड़ी है। वहीं रणकपुर एक्सप्रेस राजकियावास व रतलाम केरला रेलवे स्टेशन पर खड़ी है। वहीं मारवाड़ जंक्शन व फालना रेलवे स्टेशन पर खड़ी सिकन्दराबाद व गंगानगर एक्सप्रेस को अब वाया फुलेरा होकर रवाना किया गया है।

इन बस्तियों में भरा है पानी
शहर के पांच मौका पुलिया पर कमर जितना पानी का भराव होने से शहरवासियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं सर्वोदय नगर स्थित अंडरब्रिज में पानी ऊपर तक भर गया है। इसी तरह आदर्श नगर, हाउसिंग बोर्ड, रामदेव रोड, दुर्गा कॉलोनी, सिंधी कॉलोनी, मंडिय़ा रोड, जालोर गेट, महावीर नगर, रामलीला मैदान, नया गांव, पठान कॉलोनी, सुंदर नगर, सूर्या कॉलोनी, पुलिस लाइन मैदान, सुभाष नगर, व राजेन्द्र नगर विस्तार सहित कई कॉलोनियां व बस्तियां जलमग्न हो गई हैं। यहां लोगों के घरों में पानी भर गया है। लोगों ने अन्य स्थानों पर श्रर्ण भी ले रहे हैं।

कामलीघाट व गोरमघाट रेल पटरियों पर गिरी चट्टानें
कामलीघाट व गोरमघाट मीटर गेज रेल मार्ग चट्टानें गिर गई। इससे ट्रेन को करीब 2 घंटे तक खड़ा रखना पड़ा। इसमें सवार यात्री भी परेशान नजर आए। बाद में रेलवे के गैंग मैन ने पटरियों पर पड़े पत्थरों को हटाया। इसके बाद मार्ग खुलने पर ट्रेन को रवाना किया गया।

रेल यात्रियों के लिए बनाए भोजन के पैकेट
बारिश में रास्ते में अटकी ट्रेनों के यात्रियों के लिए श्री गुरु पुष्कार जैन साधना केन्द्र द्वारा 500 भोजन के पैकेट तैयार किए जा रहे हैं। यह पैकेट संस्था के सज्जन धारोलिया, जवरीलाल बाफना, गोतम भंसाली, बाबूलाल सालेचा, पूरणमल जैन व इन्द्रचंद कोठारी जो रेल यात्रियों को वितरित करेंगे।

बांड़ी नदी के रपट के ऊपर से बहने लगा पानी
देर रात से हो रही बारिश से बांड़ी नदी में तेज गति से पानी बहने लगा है। बांड़ी नदी में बहते पानी को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। सुरक्षा के लिए यहां पुलिस कर्मियों को भी तैनात किया गया है।

जवाई सहित अन्य बांधों में हो रही आवक
शाम 05.00 बजे तक जवाई बांध [ Jawai Dam ] का गेज 25.90 फीट हो गया है। वहीं सेई बाधं का गेज 03.50 मीटर हो गया है। इस बांध में अभी आवक जारी है। हेमावास बांध [ Hemavas Dam ] में 25 फीट, सादड़ी-राणकपुर बांध 61.00 फीट, फुलाद बांध 20.00 फीट, लूनी बांध पर चादर का लेवल पौने तीन फीट पहुंचा गया है। सेवाड़ी का प्रमुख बांध का गेज 20.05 फीट पहुंचा गया है। राजपुरा बांध 09.40 फीट, जूना मालारी 12.50 फीट, केसुली बांध 08.00 फीट, मुथाणा बांध 04.10 फीट हो गया है। डिंगोर बांध ओवरफ्लो हो गया है। यहां 2 इंच की चादर चल रही है। इसके साथ ही अन्य बांधों व तालाब में पानी की आवक जारी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned