चरित्र पर संदेह में पत्नी की हत्या, दस जनों की हत्या करने की तैयारी में था

- पाली जिले के सोजत में विवाहिता की हत्या का मामला
- ओढऩी से गला घोंटकर की थी हत्या
- पत्नी की हत्या कर भागा था हरियाणा, गिरफ्तार

By: Suresh Hemnani

Published: 07 Sep 2020, 07:28 PM IST

पाली/सोजत। पाली जिले के सोजत सिटी में गत दिनों पूर्व भूत बावड़ी में विवाहिता की हत्या का पुलिस ने सोमवार को राजफाश कर दिया। उसकी हत्या उसके पति राजूराम शर्मा ने ही की थी। वह अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था, इस कारण उसने ओढऩी से गला घोंटकर हत्याकर शव झाडिय़ों में फेंक दिया था।

पुलिस ने आरोपी पति को हरियाणा से गिरफ्तार किया। वह अपराधी प्रवृत्ति का है और वह अपनी पत्नी के सम्पर्क में आने वाले करीब दस से अधिक जनों की हत्या करने की साजिश भी रच चुका था, इसके लिए हथियार जुटाने की फिराक में था। इस बीच पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधीक्षक राहुल कोटोकी के अनुसार 2 सितंबर को आबूरोड हाल रामप्याऊ निवासी जमना बंजारा का शव झाडिय़ों में मिला था। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर एएसपी तेजपाल सिंह, सीओ सोजत डॉ. हेमंत जाखड़ व थानाधिकारी रामेश्वर लाल भाटी के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया। वारदात के बाद जमना का पति पाना समसपुर चरखी दादरी हरियाणा निवासी राजु शर्मा पुत्र रामनिवास गौड़ फरार था, पुलिस को उस पर ही हत्या का संदेह था। पुलिस ने उसे हरियाणा से गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने बताया कि वह ट्रक चलाता है और दो सितम्बर को वह सोजत आया, आते ही अपने पुत्र दीपक के पास गया।

उसके मोबाइल से कॉल कर पत्नी जमना को नर्सिंगपुरा भाकरी के सूनसान जगह पर बुलाया, यहां दिनदहाड़े ओढऩ़ी से गला घोंट हत्या कर शव कंटीली झाडिय़ों में छोडकऱ ब्यावर चला गया। वहां से 4 सितंबर को पुन: सोजत आया तथा अपनी पत्नी के सम्पर्क में रहने वाले दर्जनभर लोगों की हत्या करने की फिराक में था, लेकिन पुलिस की सक्रियता देखकर आरोपी हरियाणा भाग गया। उसने यूपी व बिहार से हथियार जुटाकर पत्नी के सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों की हत्या करने का मानस बना लिया था। इस बीच पुलिस हरियाणा पहुंच गई और उसे गिरफ्तार कर लिया।

तस्करी के आरोप में काट चुका है सजा
आरोपी ने वर्ष 1983 में हरियाणा के चरखी दादरी सरकारी कॉलेज में बंदूक से फायर किया था। 1985 में अपने गांव के एक व्यक्ति पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया था। वर्ष 1996 में पुलिस थाना निम्बहेड़ा जिला चित्तौडगढ़़ में अवैध डोडा पोस्त तस्करी के आरोप में गिरफ्तार हुआ था। इस मामले में वह पांच साल तक चित्तौडगढ़़ जेल में भी रहा।

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned