माउंट आबू के वन्यक्षेत्र में फिर धधका दावानल, काबू

 पिछले लंबे समय से वन्यक्षेत्र में धधके दावानल पर मंगलवार को काबू पाने के बाद प्रशासनिक अमला चैन की सांस ले ही रहा था कि बुधवार अपराह्न एक बार फिर दावानल धधकने से परेशानी बढ़ गई। हालांकि आग दोबारा धधकने की आशंका को देखते हुए क्षेत्र में गहन निगरानी रखने को विभिन्न विभागों के अलग-अलग दस्तों की गश्त, मौके पर उपस्थित अग्निशमन दस्ते व पानी के टेंकर उपलब्ध होने से आनन-फानन में दावानल पर काबू पाने की युद्धस्तर पर कवायद आरंभ कर दी गई। लंबी जद्दोजहद के बाद आग पर फिर से काबू पाया लिया गया। जिससे बड़ा हादसा होने से टल गया। मौके पर उपस्थित पालिका आयुक्त दिलीप माथुर, स्काउट सी.ओ. जितेंद्र भाटी के अनुसार आबूरोड-माउंट आबू मार्ग पर आरणा-हनुमान मंदिर व बीस नंबर पिल्लर के मध्य वन्यक्षेत्र में अचानक फिर से दावानल धधक उठा। जिसकी सूचना मिलते ही आग पर काबू पाने को वनकर्मी, आर्मी, एयरफोर्स, सीआरपीएफ, स्काउट, नगरपालिका, नागरिकों, जनप्रतिनिधियों व श्रमिकों के दल युद्धस्तर पर कवायद में जुट  गए। समय पर आग पर काबू पाने को अग्निशमन दस्ते, पानी के टेंकर व अन्य उपकरण मौके पर ही उपलब्ध होने की वजह से समय रहते दावानल को नियंत्रित किया जा सका। जिससे कोई बड़ा हादसा होने से टल गया। क्षेत्र में चल रही हवाओं व उसके बार बाद बदलते रूख को देखते हुए, पूर्व में धधके दावानल की वजह से जले हुए पेड़ के ठंूठों से निकलने वाले धुंध के  साथ कोई चिंगारी अन्यंत्र जाकार जंगल में फिर से दावानल का रूप न ले ले उसके लिए पूरी ऐहितयात बरती जा रही है। निरंतर राउंड द क्लॉक गश्ती दल तैनात हैं।

amarsingh rao Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned