Video : देर रात @ 11.20 बजे : पाली में झमाझम बारिश, चेहरों पर लौटी रौनक

पाली. शहर व आसपास के क्षेत्र में शनिवार रात करीब सवा 11 बजे तेज हवा के साथ झमाझम बारिश शुरू हुई। इससे मौसम खुशनुमा हो उठा। उमसे से बेहाल लोगों ने बारिश के पानी में नहाने का लुत्फ उठाया। इधर, बारिश के साथ ही शहर के कई क्षेत्रों में बिजली गुल हो गई। 

By: Satydev Upadhyay

Published: 07 Jul 2019, 01:49 AM IST

पाली. शहर व आसपास के क्षेत्र में शनिवार रात करीब सवा 11 बजे तेज हवा के साथ झमाझम बारिश शुरू हुई। इससे मौसम खुशनुमा हो उठा। उमसे से बेहाल लोगों ने बारिश के पानी में नहाने का लुत्फ उठाया। इधर, बारिश के साथ ही शहर के कई क्षेत्रों में बिजली गुल हो गई। 


शहर व आसपास के क्षेत्रों में शनिवार सुबह से ही आसमान में बादल मंडराते नजर आए और वातावरण में उमस का अहसास बना रहा। क्षेत्रवासियों को बारिश की उम्मीद थी लेकिन पूरे दिन बादल नहीं बरसे। जबकि, जैतारण क्षेत्र में देर शाम जमकर बारिश हुई। देर रात करीब 11.15 बजे एकाएक तेज हवा के साथ तेज बौछारें गिरने लगी और बादल छाने से चारों ओर अंधकार छा गया। आसमान में बिजली की गडगड़़ाहट के बीच तेज बारिश शुरू हुई, जो काफी देर तक चलती रही। लंबे इंतजार के बाद आज हुई बरसात से क्षेत्रवासियों के साथ ही किसानों ने राहत की सांस ली है।

जैतारण में 29 एमएम बारिश

दिनभर तपिश के बाद शनिवार शाम को जिले की जैतारण तहसील में मूसलाधार बारिश हुई। पांच बजे बारिश का दौर शुरू हुआ, जिससे कस्बे की सडक़ों पर पानी बहने लगा। राबडिय़ावास, लाम्बिया, बलाड़ा, पपलिया खुर्द व सेवारिया सहित दर्जनों गांवों में जोरदार बारिश हुई है। बारिश के बाद किसानों के चेहरे खिल उठे हैं। तहसील कार्यालय के मुताबिक शनिवार को जैतारण में 29 एम.एम. बारिश दर्ज की गई।


अभी तक इतनी हुई बारिश
जलसंसाधन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक शनिवार सुबह तक मारवाड़ जंक्शन में 31, बाली में 40, रोहट में 69, रायपुर में 107, जैतारण में 70 पाली मे ं15, देसूरी में 75 व सुमेरपुर में 46 एमएम बारिश दर्ज की गई।

कालबकलां नदी में बहा पानी, लूनी बांध में आया पानी

पाली. मारवाड़ क्षेत्र में दूसरे दिन शनिवार को भी इन्द्र की मेहरबानी रही। दिनभर तेज तपिश के बाद शाम को आसमां में छाए बादलों ने बरसात की झड़ी लगा दी। मूसलाधार बारिश से सडक़ों पर पानी बह निकला। अरावली क्षेत्र में अच्छी बारिश होने से कालबकलां नदी व बरसाती नालों में पानी की आवक हुई। क्षेत्र के गांवों में भी बारिश से किसानों के चेहरे खिल उठे।

रायपुर मारवाड़. कस्बे सहित क्षेत्र के गांवों में शनिवार को पूरे दिन तेज धूप के बाद शाम को मौसम में बदलाव हुआ। कहीं तेज तो कहीं रिमझिम बारिश से लोगों को तपिश से राहत मिली। सिंचाई विभाग के एईएन डीआर. सीरवी ने बताया कि पहाड़ी क्षेत्र में हुई अच्छी बारिश से कालब कलां नदी तेज वेग से चली। इस नदी का पानी लूनी बांध में पहुंचने से बांध में करीब एक फ ीट पानी की आवक हुई है। गिरी बांध पर रखे नियंत्रक के अनुसार गिरी क्षेत्र में बीते 24 घण्टे में 40 एमएम बारिश हुई है। हालांकि गिरी बांध के आस-पास बने एनीकट की वजह से इस बांध में अब तक आवक शुरू नही हुई है।

निमाज. पिछले तीन दिनों से क्षेत्र में हो रही लगातार बारिश से हर वर्ग में खुशी हैं। शुक्रवार के बाद शनिवार को दिनभर गर्मी के बाद शाम साढ़े छह बजे बाद तेज हवा के साथ बरसे बादलों ने चारों और पानी ही पानी कर दिया। पौन घंटे तक हुई तेज बारिश से गर्मी से परेशान लोगों ने राहत की सांस ली। खेतों में पानी भर गया। सामुदायिक चिकित्सालय, पशु चिकित्सालय, उच्च माध्यमिक विद्यालय के बाहर, बस स्टेण्ड आदि पर पानी भर जाने से मरीजों, विद्यार्थियों, राहगीरों, वाहन चालको को परेशानी का सामना करना पड़ा। बुवाई से वंचित रहे किसानों को शनिवार को हुई तेज बारिश के कारण अब दो-तीन दिन इंतजार करना पड़ेगा।

Satydev Upadhyay
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned