पुलिस दिवस पर 136 जवानों को सेवा चिह्न से नवाजा

Avinash Kewaliya

Publish: Apr, 17 2018 10:50:37 AM (IST)

Pali, Rajasthan, India
पुलिस दिवस पर 136 जवानों को सेवा चिह्न से नवाजा

- पुलिस अधीक्षक ने ली मार्च पास्ट की सलामी

- जयपुर में भी दो कांस्टेबलों को मिला सम्मान

पाली. जिला मुख्यालय स्थित पुलिस लाइन में सोमवार को पुलिस स्थापना दिवस समारोह पूर्वक मनाया गया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने पुलिस जवानों को सेवा चिन्ह से नवाजा। साथ ही पुलिस की सहायता करने वाले विभिन्न कार्यकर्ताओं और समाजसेवियों का भी सम्मान किया।
इससे पहले पुलिस अधीक्षक ने पुलिस लाइन ग्राउंड में मार्च मास्ट की सलामी ली। इसके बाद पुलिस में सेवा दे रहे 82 जवानों को अति उत्तम व 54 जवानों उत्तम सेवा चिह्न पुरस्कार से नवाजा गया। इसके साथ ही शहर के सात नागरिकों का भी सम्मान किया गया। इस मौके पर एएसपी ज्योतिस्वरूप शर्मा, सीओ सिटी सुभाष शर्मा, कोतवाली थाना प्रभारी गंगाराम खावा, औद्योगिक थाना प्रभारी बंशीलाल वैष्णव, सदर थाना प्रभारी सवाईसिंह राठौड़ सहित कई पुलिस अधिकारी व जवान मौजूद थे। संचालन महिला थाना प्रभारी निर्मला कंवर ने किया। इधर, जयपुर में एसीबी महानिदेशक आलोक त्रिपाठी ने पाली जिले के कांस्टेबल जगदीशराम को अति उत्तम तथा कांस्टेबल यशपालसिंह व भैरूसिंह को उत्तम सेवा चिह्न प्रदान किया।

इनका भी किया गया सम्मान

जिला पुलिस के साथ सहयोग रखकर जिले में अच्छे कार्य करने वाले सदस्यों का भी पुलिस अधीक्षक ने सम्मान किया। इसमें जगदीश माली, पिंटू आहुजा, अकबर खान, मोहम्मद यासिन, मोहम्मद आसीफ, नरेश भील, गजेंद्रसिंह मंडली व बांगड़ धर्मशाला मैनेजर अशोक शर्मा शामिल रहे।

पुलिस लाइन में लगाए परिंडे

कार्यक्रम के तहत ग्रीष्मकाल को देखते हुए सभी अधिकारियों ने पुलिस लाइन में पक्षियों के लिए परिंडे लगवाए। साथ ही पुलिस द्वारा चलाए जा रहे अभियानों की प्रदर्शनी लगाई। इसमें सडक़ सुरक्षा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं, बाल विवाह निषेध व स्वस्थ भारत अभियान की प्रदर्शनी शामिल रही।

फर्जी शादी गिरोह के सदस्यों की मध्यप्रदेश में तलाश कर रही पुलि

पाली. फर्जी विवाह करवाने वाले गिरोह ने जिले में पुरुषों की नब्ज को पकड़ लिया था। यह गिरोह ऐसे पुरुषों को ही अपना टारगेट बनाता था, जिसके पास पैसा तो है, लेकिन शादी नहीं हो रही। पुलिस की पकड़ में आए गुल्लाराम ने पूछताछ में ये बातें स्वीकारी।

फर्जी शादी करवाने वाले गिरोह की शिकार हुई महिला के सामने आने के बाद पुलिस ने शनिवार को सोमेसर के इंद्रावाड़ा निवासी गुल्लाराम उर्फ गिरधारी सीरवी को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने आरोपित को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया था, लेकिन आरोपित से इस गिरोह के संबंध में कोई विशेष जानकारी नहीं मिल पाई है।

थाना प्रभारी सवाईसिंह राठौड़ ने बताया कि गुल्लाराम से पूछताछ में सामने आया कि उसने भी मध्यप्रदेश की महिला से शादी कर रखी है। उसकी पत्नी उसके साथ ही रहती है। गुड़ा नारकान निवासी मूलाराम पुत्र तुलसाराम सीरवी के विवाह करवाने में वह भी शामिल था। फिलहाल पुलिस मध्यप्रदेश निवासी आशा राठौड़, दिलीप राठौड़ व शीतल की तलाश कर रही है। इन सभी के पकड़ में आने के बाद ही पुलिस को पता चल पाएगा कि इस गिरोह का मुख्य सरगना कौन है और कितने लोग इस गिरोह के झांसे में आ चुके है। गुल्लाराम को पुलिस मंगलवार को फिर से कोर्ट में पेश करेगी।

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned