भाई की कलाई पर सजा बहना का प्यार

माहेश्वरी समाजबंधुओं ने मनाया रक्षाबंधन पर्व

By: Rajeev

Published: 11 Sep 2021, 09:06 PM IST

पाली. रक्षा बंधन का पर्व यों तो श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है, लेकिन कई समाजों में यह ऋषि पंचमी को भी मनाया जाता है। माहेश्वरी समाज सहित कुछ ब्राह्मण समाजों में रक्षा बंधन शनिवार को उल्लास से मनाया गया। बहनें सुबह सज-धजकर राखी, कुमकुम, मोली, नारियल, मिष्ठान आदि लेकर अपने भाइयों के घर पहुंची। वहां बहनों का इंतजार कर रहे भाइ-भाभी ने उनकी अगवानी की। इसके बाद बहनों ने अपने भाइयों की कलाई पर स्नेह का धागा बांधा। बड़े भाइयों ने बहनों को आशीर्वाद लिया। वहीं छोटे भाइयों ने बहनों के पैर छुकर शीश नवाया। बहनों के घर आने पर भाइयों ने बहनों को साड़ी सहित उनकी पसंद के उपहार दिए। भांजा-भांजी के लिए वस्त्र और खिलौने आदि भेंट किए। बहनों ने भी अपने भांजा-भांजी को उपहार देकर लाड़ लड़ाया। इसके बाद भाइ-बहन ने साथ बैठकर परिजनों के साथ भोजन किया।

भाई की कलाई पर सजा बहना का प्यार

बांगड़ अस्पताल में वितरित किए लड्डू
माहेश्वरी समाज के रक्षाबंधन व ऋषि पंचमी पर माहेश्वरी महोत्सव समिति की ओर से बांगड़ चिकित्सालय में लड्डुओं व मिष्ठान का वितरण किया गया। अध्यक्ष विमल मून्दड़ा ने बताया कि महेश वार्ड के साथ ही चिकित्सालय के सात वार्ड में मरीजों, वहां कार्यरत चिकित्साकर्मियों व चिकित्सकों में प्रसाद का वितरण किया गया। उन्होंने बताया कि यह प्रसाद समिति की ओर से गणेश चतुर्थी पर विशेष रूप से तैयार करवाया गया था। इस मौके मनीष बिड़ला, नवनीत तापडिय़ा, मनीष बागड़ी, जितेन्द्र आसवा, रमेश कोठारी, रेडक्रॉस सोसायटी अध्यक्ष जगदीश गोयल, सचिव जितेन्द्र जैन, अरुण प्रकाश दायमा आदि मौजूद रहे।

Rajeev Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned