VIDEO : मिर्ची बड़ों का टूटा लॉकडाउन, लगाए चटखारे

- मिठाई व मिर्ची बड़ों का स्वाद चखने को आतुर शहरवासी
- पाली शहर के मिल क्षेत्र व सूरजपोल पर खुली दुकानें

By: Suresh Hemnani

Published: 23 May 2020, 01:12 PM IST

पाली। पाली की मिठाई और मिर्ची बड़े Mirchi Bada ], कचौरी [ Kacori ] व ससोसे [ Samosa ] का स्वाद जिलेवासियों के साथ बाहर से आने वाले लोगों के सिर चढकऱ बोलता है, लेकिन लॉकडाउन लगने के बाद से शहरवासी ना तो मिर्ची बड़े खा पा रहे थे और ना मिठाई मिल रही थी। ऐसे में लॉकडाउन 4.0 [ Lockdown 4.0 ] में सूरजपोल व मिल क्षेत्र आदि जगहों पर जैसे ही इन चीजों को घर ले जाने की छूट के साथ दुकानें खुली तो शहरवासी खुद को रोक नहीं पाए। वे सीधे इनकी दुकानों पर पहुंचे और मिर्ची बड़ों के साथ कचौरी व समोसे पैक करवाकर घर ले गए।

कोरोना पर भारी स्वाद
मिर्ची बड़ों व कचौरी-समोसे का स्वाद चखने की आतुरता कोरोना वायरस के संक्रमण पर भी भारी रही। बांगड़ चिकित्सालय के सामने ही दुकानें खुलने पर अस्पताल के कार्मिक सीधे वहां पहुंचे और मिर्ची बड़ा खरीदा। जिसे अस्पताल ले जाकर खाया। वहीं कलक्ट्रेट से भी कार्मिक खरीदने के लिए पहुंचे। वे भी कचौरी व मिर्ची बड़ा लेकर सीधे कलक्ट्रेट या ऑफिस ही गए।

हलवा खाने वाले कम नहीं
मिर्ची बड़ा खरीदने सूरजपोल पहुंचने वाले लोग उसके साथ गुलाब हलवा ले जाना भी नहीं भूले। लोगों ने पहले सूरजपोल व अम्बेडकर सर्किल से हलवा लिया। इसके बाद गर्मा-गर्म मिर्ची बड़े।

कई दिनों से थी तलब
मिर्ची बड़े व हलवा खाने की पिछले कई दिनों से तलब हो रही थी, लेकिन दुकानें खुली नहीं थी। घर पर मिर्ची बड़े एक बार बनाए थे, पर स्वाद ऐसा नहीं आया। आज पता लगते ही मिर्ची बड़ा व हलवा लेने आया हूं। -मनोज, ग्राहक

रोजाना खाता था कचौरी
मैं मिर्ची बड़ा तो नहीं, लेकिन रोजाना कचौरी जरूर खाता था। आज पता लगा कि दुकान खुल गई है तो खुद को रोक नहीं सका और सीधे खरीदने आ गया। आज परिवार के साथ बैठकर खाने का आनन्द लूंगा। -करण, ग्राहक

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned