तापमान ने किसानों की बढ़ाई धडकऩें, नहीं हो रही सरसों की बुवाई

- सरसों की बुवाइ के न्यूनतम 25 डिग्री तापमान चाहिए
- दिन का तापमान 37 से 39 डिग्री चल रहा है

By: Suresh Hemnani

Published: 08 Oct 2020, 09:59 AM IST

पाली। दिन में तेज धूप व तापमान ने किसानों की धडकऩे बढ़ा दी हैं। तेज धूप व तापमान अधिक होने के कारण किसान सरसों की बुवाई नहीं कर पा रहे हैं। सरसों की बुवाई के लिए दिन का न्यूनतम तापमान 25 डिग्री तक होना चाहिए। इन दिनों तापमान 37 से 39 डिग्री चल रहा है। 13 से 14 डिग्री तापमान अधिक होने के कारण किसान सरसों की बुवाई नहीं कर पा रहे हैं। तापमान को लेकर किसान चिंतित हैं। तापमान जल्द ही नीचे नहीं आया तो किसान सरसों की बुवाई नहीं कर पाएंगे। हालांकि जहां पर जमीन में अधिक नमी है वहां सरसों की बुवाई की जा रही है। जिले भर में अभी तक करीब 500 हैक्टेयर भूमि में ही सरसों की बुवाई हुई है।

सेवज बुवाई का रकबा बढ़ेगा
रोहट, पाली, मारवाड़ जंक्शन व सोजत में अधिक बारिश होने से खेतों में पानी भर गया था। खरीफ की फसलें खराब हो गई थी। इस कारण इन क्षेत्रों में किसान सरसों की सेवज फसल की बुवाई शुरु की है। जैसे-जैसे जैसे तापमान नीचे आएगा सरसों फसल बुवाई में तेजी आएगी।

15 सितम्बर से बुवाई शुरु
कृषि विभाग के अधिकारियों के मुताबिक सरसों की सेवज फसल की बुवाई 15 सितम्बर से 30 अक्टूबर तक व सिचिंत सरसों की बुवाई 30 सितम्बर से 30 अक्टूबर तक कर सकते हैं। चना 15 अक्टूबर से 15 नवम्बर तक व गेहूं 15 अक्टूबर से दिसम्बर के अंतिम सप्ताह तक बुवाई कर सकते हैं।

2 लाख 64 हजार हैक्टेयर का लक्ष्य
जिले भर में 60 हजार हैक्टेयर में सरसों, 60 हजार में चना, 60 हजार में गेहूं , 18 हजार में तारामीरा व 66 हजार हैक्टेयर में जीरा, इसबगोल सहित अन्य फसलों की बुवाई का लक्ष्य कृषि विभाग ने तय किया है। तापमान कम नहीं होने पर चना का रकबा बढ़ सकता है।

बुवाई शुरु
जिले भर में 2 लाख 64 हजार हैक्टेयर भूमि में रबी फसल का बुवाई का लक्ष्य है। अभी तक 500 हैक्टेयर में सरसों की बुवाई हुई है। सरसों बुवाई में अब तेजी आएगी। सरसों बुवाई के लिए 25 से 28 डिग्री तापमान होना चाहिए। जमीन में नमी हो तो किसान बुवाई कर सकते हैं। -शंकराराम बेड़ा, उपनिदेशक कृषि विभाग विस्तार पाली

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned