जातरुओं की भीड़ में नए एसएचओ, अपराधियों की पहचान मुश्किल

जातरुओं की भीड़ में नए एसएचओ, अपराधियों की पहचान मुश्किल

Rajendra Singh Denok | Publish: Sep, 09 2018 10:51:05 AM (IST) Pali, Rajasthan, India

- रामदेवरा सीजन में बढ़ी लूट व चोरियां

पाली। जिले में लगभग 80 प्रतिशत थानों के एसएचओ एक दिन पहले बदल दिए गए, लेकिन अपराध रोकना इन एसएचओ के सामने बड़ी चुनौती बन गया है। कारण कि रामदेवरा जातरू सीजन में जिले में एकाएक लूट व चोरियों की वारदातें बढ़ गई हैं, ऐसे में पुलिस अधीक्षक ने सभी एसएचओ को सतर्क रहने के निर्देश देते हुए तुरंत पदभार संभालने की बात कही है। एक माह में जिले में लूट, चोरियां, वृद्धजनों पर हमले व हत्या की वारदातें बढ़ी है। जैतारण के हाजीवास में वृद्धा केलकी देवी की हत्या कर जेवरात लूट लिए गए। सदर थाना क्षेत्र के मंडिया गांव में वृद्धा पर हमला कर जेवरात लूटे। कुशालपुरा व निम्बेड़ा गांव में एक ही रात में तीन महिलाओं को निशाना बनाते हुए जेवरात लूटे गए। जीवंद कलां, आनंदपुर कालू में भी लूट की ऐसी ही वारदातें हुई। जैतारण में गोपाल सोनी की दुकान से लाखों के जेवरात चोर ले गए। वहीं जैतारण व निमाज में भी चोरियों की वारदातें हुई। पुलिस के लिए सबसे बड़ी मुश्किल यह है कि इनमें से एक भी वारदात
नहीं खुली है।

अधिकांश थानों में नए थानाधिकारी
पुलिस अधीक्षक राहुल प्रकाश ने एक दिन पहले 14 निरीक्षकों व 11 उप निरीक्षकों के तबादले किए। जिले के औद्योगिक क्षेत्र थाना, जैतारण, रायपुर मारवाड़, आनंदपुर कालू, सेंदड़ा, रायपुर मारवाड़, सोजत, बगड़ी नगर, सोजत रोड, शिवपुरा, महिला थाना, रोहट, सदर, तखतगढ़, खिंवाड़ा, देसूरी, सुमेरपुर, बाली में नए थानाधिकारी लगाए गए।
अधिकांश थाने वे हैं, जहां से सबसे अधिक रामदेवरा जातरू गुजरते हैं। जैतारण, आनंदपुर कालू, रायपुर मारवाड़, देसूरी, सदर, सोजत रोड, सोजत सिटी व रोहट जैसे थाना क्षेत्रों में गत दिनों बड़ी लूट व चोरियों की वारदातें हुई। ऐसे में अब जनता इन नए थानाधिकारियों से उम्मीद कर रही है कि वे अपराध पर लगाम लगाएंगे।

विशेष फोकस कर रहे हैं
जातरुओं की सीजन में अपराध बढ़े हैं। इन्हें रोकने के लिए विशेष सतर्कता बरती जा रही है। सभी को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं।
राहुल प्रकाश, पुलिस अधीक्षक, पाली।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned