बाड़मेर में छिपा था पाली के सांडेराव थानाधिकारी पर हमले का आरोपी तस्कर, पुलिस की मुठभेड़ में ढेर

- हैड कांस्टेबल पर चढ़ाई कार तो साथियों ने किए फायर, वाण्टेड तस्कर की मौत
- सदर थाना क्षेत्र के सैंट पॉल स्कूल के पास की वारदात

By: Suresh Hemnani

Updated: 23 Apr 2021, 08:46 AM IST

पाली/बाड़मेर। बाड़मेर के सदर थाना क्षेत्र के सैंट पॉल स्कूल के पीछे गुरुवार देर रात बाड़मेर पुलिस व तस्करों के बीच हुई मुठभेड़ में दर्जनों बार पुलिस पर हमला करने वाला कुख्यात आरोपी कमलेश मारा गया। वारदात में सदर थाने में कार्यरत हैड कांस्टेबल गंभीर घायल हो गया। उसके राजकीय अस्पताल पहुंचाया। जहां उसका उपचार चल रहा है।

बाड़मेर पुलिस के अनुसार गत दिनों पाली जिले के सांडेराव थानाधिकारी धोलाराम परिहार पर हमला करने के आरोपी के सदर थाना क्षेत्र में छिपे होने की सूचना गुरुवार रात को मिली। पुलिस ने स्पेशल टीमों का गठन कर दबिश की कार्रवाई को अंजाम दिया। कार्रवाई के दौरान कुख्यात वाण्टेड कमलेश उर्फ कमल पुत्र आसूराम प्रजापत निवासी छीतर मकान के पीछे के दरवाजे से फरार होने लगा। दरवाजे पर तैनात हैंड कांस्टेबल ने रोकने का प्रयास किया तो कुख्यात तस्कर ने लग्जरी कार से टक्कर मारकर कुचलने का प्रयास किया। जवाबी कार्रवाई में तैनात जवानों ने फायरिंग कर उसे घायल कर दिया। कुख्यात तस्कर की उपचार के दौरान राजकीय अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने उसका शव राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। जहां देर रात बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया।

पुलिस को अंदेशा था फायरिंग होगी
कुख्यात तस्कर कमलेश पुलिस पर कई बार फायंरिग कर चुका है। आरोपी को पकडऩे गए पुलिस बल को जवाबी फायरिंग को लेकर पूरी तरह तैयार थी, पुलिस का अंदेशा था कि जब भी आमना-सामने होगा वह फायरिंग करेगा।

यों आरोपी को घेरा
- बाड़मेर पुलिस को जानकारी मिली कि सांडेराव पुलिस पर हमला करने का आरोपी सदर थाना के पीछे मकान में छिपा है।
- एसपी के निर्देशन में चार थानाधिकारियों के नेतृत्व में स्पेशल टीमों का हुआ गठन।
- फायरिंग की तैयारी के साथ पुलिस दल-बल के साथ पहुंचा।
- पुलिस पहुंची तो आरोपी पिछे के दरवाजे से होने लगा फरार
- दरवाजे पर तैनात हैड कांस्टेबल पर चढ़ाई लग्जरी कार, फिर जवानों ने किए फायर
- फायरिंग में घायल तस्कर कमलेश की उपचार के दौरान हुई मौत
- एसपी पहुंचे घटनास्थल, चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती, पूरे मकान सहित क्षेत्र में छानबीन शुरू

मची अफरा-तफरी
सदर थाना क्षेत्र के सूनसान इलाके में एक साथ बाड़मेर पुलिस के जवानों ने दबिश दी, तो मोहल्ले में अफरा-तफरी मच गई। हालांकि कुछ ही देर में मोहल्ले के लोगों को जानकारी मिली कि पुलिस ने दबिश देकर तस्करों को पकड़ा है।

वर्ष 2017 में इसी मकान में दबोचा था
दिसम्बर 2017 में ग्रामीण थाना पुलिस दबिश देकर इसी आरोपी को घेर लिया था। उस दौरान ग्रामीण थानाधिकारी धन्नापुरी ने निर्माणाधीन मकान को घेर लिया था। पुलिस का अंदेशा था कि फायरिंग होगी, लेकिन तस्कर कमलेश मकान की छत पर चढ़ गया। उसके बाद पुलिस ने चेताते हुए कहा कि सरेंडर कर, वर्ना फायरिंग से उड़ा देंगे। उसके बाद पुलिस ने उसे दबोच लिया था।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned