34 लोगों से भरी ट्रैक्टर ट्रोली चार थाना क्षेत्रों से गुजरी, 55 किलोमीटर की दूरी में किसी ने नहीं रोका...

नतीजा हादसा...बालिका की मौत, 33 घायल
- रोक के बावजूद कोरोना काल में प्रसादी कर गए, प्रशासन ने भी नहीं टोका
- रास्ते में भाद्राजून, नोसरा, आहोर व रोहट थाना क्षेत्र लगता, लेकिन किसी ने नहीं रोका
- उन्दरा-सेंदरिया के बीच मोटरसाइकिल को बचाने के फेर में ट्रैक्टर ट्रोली समेत पलटा

By: Suresh Hemnani

Updated: 15 Apr 2021, 09:04 AM IST

पाली/रोहट। पाली जिले के रोहट थाना क्षेत्र के उन्दरा-सेंदरिया के बीच में एक मोटरसाइकिल को बचाने के फेर में ट्रैक्टर असंतुलित होकर ट्रोली समेत पलट गया। हादसे में ट्रोली सवार तीन माह की मासूम बालिका की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 33 जने घायल हो गए। घायलों को रोहट अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से 14 जनों को रैफर कर दिया गया। ट्रैक्टर चालक के अलावा सभी घायल जालोर जिले के एक ही परिवार के लोग है।

पुलिस सचेत रहती तो नहीं होता हादसा
इस हादसे में पाली-जालोर जिले के प्रशासन व पुलिस की लापरवाही सामने आई। आकोरा पादर जिला जालोर से ट्रैक्टर में सवार होकर देवासी परिवार के लोग मंगलवार को पाली जिले के रोहट थाना क्षेत्र में आने वाले सेंदरिया में मामाजी के थान पर आए। रास्ते में जालोर का भाद्राजून, नोसरा, आहोर थाना क्षेत्र लगता है। वहीं पाली जिले के रोहट थाना क्षेत्र में भी आता है। इन चार थाना क्षेत्रों की पुलिस में से किसी ने हाइवे पर इस ट्रैक्टर को नहीं रोका। जबकि यह ट्रैक्टर सवार ओवरलोड लोग 55 किलोमीटर की यात्रा कर सेंदरिया गांव पहुंचे। जहां मंगलवार रात को जागरण किया, यहां पुलिस व प्रशासन नहीं पहुंच पाया, जबकि कोरोना में सभी तरह के धार्मिक आयोजन की मनाही है। बुधवार सुबह प्रसादी की। इसके बाद सभी ट्रैक्टर ट्रोली में सवार होकर अपने गांव लौट रहे थे। सेंदरिया के निकट बाइक को बचाने के फेर में ट्रैक्टर मय ट्रोली पलट गया। हादसे में तीन माह की बालिका रेखा पुत्री पांचाराम देवासी की मौत हो गई। जबकि 33 जने घायल हो गए। शव रोहट अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया। सूचना पर थानाधिकारी जसवन्त सिंह, एएसआइ हनुमान ङ्क्षसह, रघुवीर ङ्क्षसह, गोरधनसिंह, हैड कांस्टेबल मलाराम, कांस्टेबल श्रवण कुमार, नन्दकिशोर मय जाप्ता मौके पर और अस्पताल पहुंचे।

यह है हादसे के जिम्मेदार
- भाद्राजून थानाधिकारी जसराज
- नोसरा थानाधिकारी महेन्द्र ङ्क्षसह
- आहोर थानाधिकारी घेवर सिंह
- रोहट थानाधिकारी जसवंत सिंह
- जैतपुर पुलिस चौकी प्रभारी केवलदास
- जिला परिवहन अधिकारी पाली राजेन्द्र दवे
- जिला परिवहन अधिकारी जालोर पे्रमराज खन्ना

यह हुए घायल
हादसे में ट्रैक्टर चालक गोगरा तखतगढ़ निवासी रमेश पुत्र फुयाराम मेघवाल, आकोरा पादर आहोर जालोर निवासी दलाराम पुत्र बाबराराम देवासी, कालूराम पुत्र सालू, मानाराम पुत्र बाबराराम देवासी, रूपी देवी पत्नी मेदाराम देवासी, नवाराम पुत्र चौथाराम देवासी, अमरूदेवी पत्नी आशाराम देवासी, नाजूबाई पत्नी केसाराम देवासी, लाडूदेवी पत्नी हरतीनराम देवासी, जोगाराम पुत्र प्रभुराम देवासी, धन्नाराम पुत्र जोगाराम देवासी, नेमाराम पुत्र जोगाराम देवासी, अमताराम पुत्र जोराराम देवासी, कनीदेवी पत्नी पंाचाराम देवासी, झूमी देवी पत्नी भूराराम देवासी, नवीन पुत्र नेमाराम देवासी, मांगी पुत्री वीरकाराम देवासी, चौथाराम पुत्र गणेशाराम देवासी, पप्पू देवी पत्नी कालूराम देवासी, जीवी पत्नी चौथाराम देवासी, भूराराम पुत्र केसाराम देवासी, हरजीराम पुत्र हरदीनराम देवासी, भावेश पुत्र हरदीनराम देवासी, रामा पुत्र हरतीगराम, कालू पुत्र धन्नाराम, नवीन पुत्र धन्नाराम देवासी, गणेशाराम पुत्र सालूराम देवासी, देवी पत्नी अम्बालाल, रवि पुत्र अम्बालाल, किशन पुत्र अम्बालाल, शनिदेवी, रूची देवी, समरथाराम गंभीर रूप से घायल हो गए।

ये हुए रैफर
इनमें से रूपी देवी, रमेश कुमार, जोगाराम, धन्नाराम, नेमाराम, अमताराम, कनीदेवी, झूमी देवी, नवीन, मांगी देवी, चौथाराम, जीवी, रूची देवी, शनि देवी को जोधपुर रैफर किया गया। हादसे के बाद रोहट 108 एम्बुलेंस के चालक शैतान सिंह व ईएमटी अकबर, चेंडा 108 के राहुल व कैलाश तथा पाली सदर की 108 एम्बुलेंस के रणछोड़ व दिनेश ने घायलों को तत्परता से अस्पताल पहुंचाने में मदद की।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned