scriptOperation of illegal tankers from wells in Pali city | यहां जल की त्राहि-त्राहि, माफिया कूट रहा चांदी | Patrika News

यहां जल की त्राहि-त्राहि, माफिया कूट रहा चांदी

- कुओं से अवैध टैंकर भरे जा रहे, कोई रोक टोक नहीं
- पानी के लिए भले ही तरसो, टैंकर माफिया के फर्क नहीं पड़ता

पाली

Updated: April 23, 2022 06:40:30 pm

पाली। पाली में भले ही जल संकट गहराया हुआ है, लोग पानी के लिए तरस रहे हैं, पानी के टैंकरों की अवैध आवाजाही पर प्रशासन ने रोक लगा रखी है, लेकिन पाली में पानी माफिया इन दिनों चांदी कूट रहा है। इन्हें रोकने वाला कोई नहीं हैं। प्रशासन चुप है। शहर में अवैध कुओं से रोजाना लाखों लीटर पानी निकालकर बेचा जा रहा है। ट्रक टैंकर व ट्रैक्टर टैंकर दिनभर इन अवैध कुओं से पानी लेकर शहर व आसपास की फैक्टि्रयों में बेच रहे हैं। पत्रिका टीम ने शुक्रवार को शहर के विभिन्न इलाकों का दौरा किया तो यह हकीकत सामने आई।
यहां जल की त्राहि-त्राहि, माफिया कूट रहा चांदी
मंडिया रोड स्थित एक कुएं पर पानी भरते टैंकर।
शहीद भगत सिंह आवासीय कॉलोनी - समय - सुबह 10 बजे
पाली शहर के मंडिया रोड के पीछे शहीद भगत सिंह आवासीय कॉलोनी है। यहां पत्रिका टीम सुबह दस बजे पहुंची तो यहां एक कुएं से पानी का बड़ा टैंकर भरा जा रहा था। टैंकर चालक ने बताया कि यहां से पानी भरकर वह फैक्टि्रयों में पानी भेजा जा रहा है। आज तक उन्हें रोकने वाला कोई नहीं मिला। टैंकर का हिसाब किताब माफिया ही रखता है, चालक को तो केवल तनख्वाह मिलती है।
गांधी नगर मंडिया रोड- समय - शाम 4 बजे
पाली शहर के गांधी नगर मंडिया रोड पर शाम चार बजे पत्रिका टीम पहुंची तो यहां खुलेआम पानी का टैंकर अवैध कुएं से भरा जा रहा है। इसकी अनुमति न तो कुआं संचालक के पास है न ही टैंकर चालक के पास। टैंकर चालक ने बताया कि घरों व औद्योगिक इकाइयों में मांग के अनुरूप यहीं से पानी लेकर सप्लाई किया जाता है। उन्हें प्रशासन नहीं रोकता।
सुमेरपुर रोड बांडी नदी रोड- समय- दोपहर 3 बजे
पाली शहर के बांडी नदी-सुमेरपुर रोड पर पत्रिका टीम ने एक पानी से भरे हुए टैंकर को रुकवाया तो उसने बताया कि शहर में ऐसे कई कुएं है, जहां से बिना रोकटोक पानी भरा जा सकता है। पाली शहर के मानपुरा भाखरी के पास भी कुओं से पानी भरवाया जाता है। यह पानी शहर में सप्लाई होता है। पुलिस, प्रशासन, जलदाय विभाग उन्हें नहीं रोकता। टैंकर के बदले उन्हें मुंह मांगा दाम मिलता है।
आदेश: आठ कुओं से ही अनुमति पर ले सकते हैं पानी
पाली जिला कलक्टर व एसडीएम ने आदेश निकाल रखा है कि शहर के आठ कुएं अधिकृत किए गए हैं। इनमें से जलदाय विभाग व एसडीएम की पर्ची से ही पानी मिल सकता है, अन्य कुओं से पानी नहीं ले सकते। पाली में ऐसा नहीं हो रहा है। अवैध टैंकर व अवैध कुओं पर कोई रोक टोक नहीं है।
शहर में 96 घंटे से जलापूर्ति, वाटर ट्रेन से पानी
इधर, पाली में जल संकट लगातार जारी है। कुछ राहत जोधपुर से वाटर ट्रेन लाकर दी जा रही है। शहर में वर्तमान में 96 घंटे से जलापूर्ति की जा रही है। आसपास के गांवों में जलसंकट और भी ज्यादा है। पानी माफिया इन दिनों इस हालात का फायदा उठा रहा है।
हर कुएं से पानी के लिए स्वीकृति जरूरी
शहर व जिले में किसी भी कुएं से पानी परिवहन के लिए जलदाय विभाग से स्वीकृति लेनी जरूरी है। कुओं से पानी बेचने को लेकर परिवहन विभाग की ओर से कार्रवाई की जा रही है। -मनीष माथुर, अधीक्षण अभियंता, जलदाय विभाग, पाली
टैंकर पहुंचते ही उमड़ते हैं ग्रामीण
रोहट। रोहट उपखंड क्षेत्र में पेयजल की गंभीर समस्या है। सिणगारी गांव में शुक्रवार को पानी के दो टैंकर गांव पहुंचे। पानी के टैंकरों से पहले गांव की खेलियों को पानी से भरा गया। उसके बाद पानी सार्वजनिक टांके में डाला गया। इस पर वहां बड़ी संख्या में ग्रामीण उमड़े। गांव में हालात यह है कि ग्रामीण बर्तन लेकर पानी के टैंकर का इंतजार करते है। पानी के टैंकर आने की जानकारी मिलते ही टांकें पर भीड़ उमड़ती है। कई बार पानी भरने को लेकर ग्रामीण आपस में उलझते है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.