डिस्कॉम की रेल पटरी से उतरी, आमजन, पुलिस, नगर निकाय व जलदाय में 68 करोड़ रुपए बकाया

- आमजन बिल भर रहे और न सरकारी विभाग
- बकाया चढऩे से डिस्कॉम का बिगड़ा गणित

By: Suresh Hemnani

Published: 07 Sep 2021, 04:50 PM IST

पाली। हर कोई मुफ्त की बिजली उपयोग में करना चाहता है। यहीं कारण है कि पाली डिस्कॉम के आमजन, पुलिस, नगर निकाय, जलदाय विभाग व जनता जल योजना में 68 करोड़ रुपए बकाया है। यह बकाया नहीं आने से डिस्कॉम की आर्थिक रेल पटरी से उतर गई है। डिस्कॉम आगे भुगतान नहीं कर पा रहा है, कम्पनियां बिजली देने से आनाकानी कर रही है। लिहाजा, बिजली संकट पैदा हो गया है। हालात यहीं रहे तो बिजली संकट गहरा सकता है।

सरकारी विभाग के तो कनेक्शन भी नहीं काट सकती
पाली में पुलिस महकमे की थानों व चौकियों में ढाई करोड़ रुपए, जलदाय विभाग का चार करोड़ रुपए, जनता जल योजना के चार करोड़ रुपए व नगर निकायों के छह करोड़ रुपए बकाया चल रहे हैं। सरकार ऊपर से बजट नहीं भेज रही है, डिस्कॉम का बकाया लगातार चढ़ता जा रहा है। सरकारी कार्यालयों के कनेक्शन भी डिस्कॉम नहीं काट सकती है। ऐसे में डिस्कॉम अब आर्थिक तंगी से जूझ रहा है।

आमजन में 50 करोड़ रुपए से अधिक राशि बकाया
मारवाड-गोडवाड़ में डिस्कॉम के आम उपभोक्ताओं में पचास करोड़ रुपए से अधिक राशि बकाया है। तमाम प्रयासों के बावजूद इस राशि को वसूल नहीं कर पा रहा है। पिछले दो साल में दो बार कोरोना लॉकडाउन लग जाने से गणित बिगड़ गई। अब कनेक्शन काटने की चेतावनी भले ही डिस्कॉम दे रहा है, लेकिन बकायादार उपभोक्ताओं की सूची इतनी बड़ी है कि डिस्कॉम सभी तक पहुंच ही नहीं पा रहा है।

बिजली कम्पनियां मांग रही रकम, डिस्कॉम खाली हाथ
बिजली कम्पनियां लगातार डिस्कॉम से बिजली के बदले रुपए मांग रही है। लेकिन डिस्कॉम की राशि सरकारी कार्यालय व आम उपभोक्ता दबाए बैठे है। हर माह डिस्कॉम अभियंताओं को यह राशि वसूलने के लिए टारगेट दिए जाते हैं, लेकिन यह राशि कभी वसूल हो ही नहीं पाती।

गत सप्ताह करना पड़ी कटौती
इधर, प्रदेश में कोयला संकट के चलते बिजली की आपूर्ति नहीं होने से गत सप्ताह पाली जिले में बिजली कटौती करनी पड़ी। यह कटौती कभी भी चालू की जा सकती है।

बकाया से बुरे हाल
आमजन व सरकारी महकमों में मिलाकर पाली में 68 करोड़ रुपए बकाया चल रहे हैं, इससे बुरे हाल है। इस राशि को वसूल करने के लिए प्रयास किए जा रहे है, सरकारी कार्यालयों के तो कनेक्शन भी नहीं काट सकते। - घनश्याम चौहान, अधीक्षण अभियंता, डिस्कॉम, पाली।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned