पाली व सिरोही ने किया ऐसा कमाल ...पढ़े पूरा समाचार

बालिकाओं की समृद्धि में पाली व सिरोही अव्वल

डाक विभाग की सुकन्या योजना में सिरोही प्रथम व पाली द्वितीय

जोधपुर चौथे नम्बर पर

By: Rajeev

Published: 24 Jul 2020, 07:07 AM IST

पाली. बालिकाओं को बालकों को समान समझने ओर उनके भविष्य को सुरक्षित बनाने के मामले में सिरोही व पाली के लोग जोधपुर रीजन में सबसे अधिक जागरूक है। ये दोनों जिले जोधपुर रीजन में आने वाले अन्य आठ जिलों के साथ प्रदेश के लिए एक उदाहरण है। यह बात डाक विभाग की ओर से चलाई जा रही सुकन्या समृद्धि योजना के आंकड़े बता रहे हैं। इसमें सिरोही ने 22 जुलाई तक 57 हजार 467 व पाली ने 46 हजार 280 खाते खोलकर रीजन मेंं पहला व दूसरा स्थान हासिल किया है। तीसरे स्थान पर 42 हजार 546 खाते श्रीगंगानगर जिले में खोले गए हैं।

पाली में 54 गांव सम्पूर्ण सुकन्या

इस योजना के तहत पाली जिले के 54 गांवों को सम्पूर्ण सुकन्या ग्राम घोषित किया गया है। इसका अर्थ यह है कि जिले के 54 गांवों में एक भी घर ऐसा नहीं है। जिनमें सुकन्या समृद्धि योजना खाता नहीं खोला गया है। इसके अलावा अन्य गांवों में भी कई बालिकाओं के खाते खोले गए हैं।

10 वर्ष तक की बालिकाओं के खोलते है खाते
इस योजना के तहत 10 वर्ष तक की बालिकाओं के डाकघर में खाते खोले जाते हैं। इसमें हर वर्ष कम से कम 250 व अधिकतम 1 लाख 50 हजार रुपए जमा करवाए जा सकते हैं। यह राशि बालिका के 21 वर्ष की होने पर ब्याज के साथ वापस दिए जाते हैं। इसमें आयकर की छूट भी मिलती है।

अब बालिका शक्ति कैंपेन

बालिकाओं को समृद्ध व सशक्त बनाने के लिए यह योजना चलाई गई थी। पाली इसमें आगे चल रहा है। अब बालिका शक्ति कैंपेन में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व आशा सहयोगिनियों का सहयोग लिया जाएगा।

पुखराज राठौड़, डाक अधीक्षक, पाली

..................................

22 जुलाई तक जोधपुर रीजन में खोले गए खाते

सिरोही 57467

पाली 46280

श्रीगंगानगर 42546

जोधपुर 38456

नागौर 37209

सीकर 35549

झुंझनू 34848

बाड़मेर 24764

बीकानेर 24257

चूरू 21612

Rajeev Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned