सरकार के निर्देशानुसार यदि कोई रह जाता है तो उसे भामाशाह के सहयोग से राहत देनी चाहिए। ताकि जिले में कोई भूख से नही मरें। बैठक में सांसद ने जिले में कोरोना की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। चिकित्सकों के पीपीई कीट को लेकर भी कहा कि यदि कमी हो तो में अलग से राशी दे सकता हुं। हालांकि सीएमएचओ ने कहा अभी जरूरत नही है। पाली में कोरोना को लेकर बनाए अस्थाई केन्द्रों को लेकर भी जानकारी ली। बैठक में जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक,अतिरिक्त जिला कलक्टर,उपखण्ड अधिकारी,सीएमएचओ,पीएमओ,मेडीकल कालेज के प्रिंसिपल,रसद अधिकारी के साथ ही विधायक,सभापति मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned