VIDEO : देहरी-देहरी जगमगाए दीप, सामाजिक एकता देख आसमान में मुस्कुराए चांद-तारे

-प्रधानमंत्री मोदी [ PM Narendra Modi ] के आह्वान पर जन-जन ने मनाई दीपावली, रोशन हुआ शहर

By: Suresh Hemnani

Published: 06 Apr 2020, 12:38 PM IST

पाली। भरी दुपहरी में अंधियारा, सूरज परछाई से हारा...आओ मिलकर दीया जलाएं...कवि व पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी [ Former prime minister atalbihari ] की कविता बीती रात शहर में साकार दिखाई दी। कोरोना वायरस [ Corona virus ] से जंग में समूचा देश आज ऐसी ही परिस्थिति में दिखाई दे रहा है।

दिन व रात लगातार बढ़ती मरीजों की संख्या एवं मौतों के आंकड़े ने प्रत्येक देशवासी को आलोडि़त कर दिया है। कोरोना वायरस की जंग में जीवन से जूझ रहे कर्मवीरों को संबल देने के प्रधानमंत्री मोदी [ PM Narendra Modi ] के आह्वान का असर इतना हुआ कि शहर में रविवार रात दीपावली सा माहौल दिखाई दिया। घर-घर में लोगों ने दीए जलाकर सामूहिक एकता का परिचय तो दिया ही, कर्मवीरों को भी संदेश दिया कि इस लड़ाई में देश उनके साथ है।

शाम से ही शुरू हो गई तैयारियां
मोदी के आह्वान के बाद से सोशल मीडिया पर अपील जारी होती रही। लोग मित्र समूहों में भी दीए जलाने का संदेश देते रहे। इसका असर इतना रहा कि कई लोगों ने लॉकडान में छूट के दौरान विभिन्न रंग-बिरंगे दीए खरीदे। कई लोगों ने घरों में शाम होते ही तैयारियां शुरू कर दी और रात होते ही घरों की लाइटें बंद करके दीप जगमग कर दिए। जगमगाते दीपों की अवली और रात में स्वच्छ आसमान के टिमटिमाते तारे बातें करते हुए दिखाई दिए। लोगों ने नौ मिनट तक दीपों की रोशनी में आकाश को निहारा।

बच्चों ने गुंजाए जयकारे
मोदी के अपील का असर सबसे ज्यादा बच्चों पर दिखाई दिया। उन्होंने शाम होते ही परिवार के काम में हाथ बंटाया। रात में नौ बजते ही घर की लाइटें बंद करके देहरी पर नन्हे हाथों से दीए जलाए। बच्चों ने हारेगा कोरोना, जीतेगी मानवता...कर्मवीरों संघर्ष करो, हम तुम्हारे साथ है आदि के नारे गुंजाए।

चर्चाएं रही आम
दीपों को जलाने को लेकर प्रधानमंत्री के आह्वान की चर्चा तीन दिन से लगातार जारी है। फेसबुक-वाट्सएप और ट्विटर आदि पर भी दीपों को जलाने के पक्ष-विपक्ष पर चर्चा होती रही। कई महिलाएं भी मोदी की अपील को सही बताते हुए कहती दिखी कि तेल बाळवां सूं तड़तड़ौ मिटे यानी तेज जलाने से संकट कट जाते हैं। कई लोगों ने वैज्ञानिक पक्ष से भी दीए जलाने को सकारात्मक प्रयास बताया। हालांकि कई लोग इसके विरोध में तर्क देते रहे, लेकिन इस बात पर सभी सहमत दिखे की कोरोना जंग के कर्मवीरों को संबल देने में यह मामूली किंतु महत्वपूर्ण कदम है। मुस्लिम परिवारों ने भी घर की देहरी पर शमां जलाई। लोगों ने नौ मिनट तक मोमबत्ती, टॉर्च एवं मोबाइल फ्लेश लाइट लगाकर देश के कर्मवीरों को संबल दिया।

दीपक की रोशनी से जगमगा उठा रोहट
रोहट। कोरोना से लडऩे की मुहिम में रोहट कस्बा रविवार को दीपावली की मानिंद जगमगा उठा। रात नौ बजते ही लोगों ने घरों की लाइटें बंद कर दी तथा छतों व मुंडेर पर दीपक जलाए तो युवाओं में मोबाइल की टॉर्च से एकजुटता का संदेश दिया। इस दौरान आतिशबाजी भी की गई।

Corona virus PM Narendra Modi
Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned