बड़ा खतरा : बारूद के ढेर पर पाली के बीस ठिकाने, कभी भी हो सकता है विस्फोट

- 89 मामलों में बरामद विस्फोटक कई वर्षो से मैग्जीन के गोदामों में पड़ा
- कोर्ट के आदेश के बाद भी लापरवाही

By: Suresh Hemnani

Published: 30 Jun 2020, 06:41 PM IST

पाली। पुलिस की कार्रवाई में बरामद विस्फोटक सामग्री [ Satchel charge ] के कई साल गुजर जाने के बाद और कोर्ट द्वारा निस्तारण के आदेश के बावजूद विस्फोटक का निस्तारण नहीं किया जा रहा है। इससे मारवाड़ गोडवाड़ [ Marwar Godwad ] के बीस ठिकानों पर स्थित मैग्जीन यानि विस्फोटक के गोदाम इस सामग्री से भरे पड़े है। भारी मात्रा में यह विस्फोटक आमजन के लिए भी खतरा बने हुए है। जयपुर मुख्यालय से पेट्रोलियम विभाग [ Petroleum department ] के अधिकारियों की लापरवाही के कारण इस सामग्री का निस्तारण नहीं हो रहा है। इन हालातों से हैरान पाली पुलिस [ Pali police ] ने जयपुर मुख्यालय को पत्र लिखकर जल्द से जल्द इसका निस्तारण करने को कहा है।

89 मामलों का विस्फोटक बेवजह स्टॉक में
पाली जिले के सेंदड़ा, रायपुर मारवाड़, जैतारण, सोजत, देसूरी, बाली, सुमेरपुर, रोहट व पाली शहर के निकट 20 मेग्जिन आई हुई है। इन मेग्जिन में पुलिस द्वारा बरामद अवैध विस्फोटक सामग्री को निस्तारण के लिए रखवाया गया है। गत दिनों न्यायालय ने 89 मामलों में बरामद विस्फोटक के निस्तारण के आदेश जारी कर दिए थे। इस विस्फोटक का निस्तारण जयपुर के पेट्रोलियम विभाग के विस्फोटक निस्तारण विंग के अधिकारियों की निगरानी में होता है। बार-बार पत्र लिखने के बावजूद ये अधिकारी पाली नहीं आ रहे है, इसके चलते यह विस्फोटक बेवजह स्टॉक में पड़ा है। जो आमजन के लिए खतरा बना हुआ है। इसको लेकर पाली पुलिस परेशान है।

पाली में माइनिंग एरिया ज्यादा, इस कारण अवैध विस्फोटक अधिक
पाली के सोजत, जैतारण, सेंदड़ा, रायपुर मारवाड़, जैतारण, रोहट, सुमेरपुर, बाली, देसूरी, सादड़ी क्षेत्र में पहाड़ी इलाके आए हुए है। यहां पहाड़ों में पत्थरों का खनन अधिक होता है। इसमें काम में ली जाने वाली विस्फोटक सामग्री की तस्करी भी अधिक होती है। हर साल पाली पाली तीस से अधिक मामले पकड़ती है। ऐसे में अवैध विस्फोटक का जखीरा एकत्रित हो रखा है।

निस्तारण के लिए मुख्यालय लिखा
कोर्ट ने 89 मामलों में पकड़े गए विस्फोटक पदार्थ का निस्तारण करने का आदेश दिया है। लेकिन पेट्रोलियम विभाग जयपुर से अधिकारी नहीं आ रहे हैं, इस कारण इनका निस्तारण अटका हुआ है। इसके लिए मुख्यालय लिखा है, जल्द ही निस्तारण किया जाएगा। - राहुल कोटोकी, एसपी, पाली।

Show More
Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned