प्रदूषण का दंश : बुलडोजर खराब, रोकनी पड़ी कार्रवाई

- प्रदूषण नियंत्रण मंडल की चेयरपर्सन वीनू गुप्ता ने दिए थे 72 घंटे में कार्रवाई के निर्देश
- प्रदूषित पानी छोडऩे की मिली थी शिकायत

By: Suresh Hemnani

Published: 28 Feb 2021, 11:36 AM IST

पाली। औद्योगिक क्षेत्र में एक औद्योगिक इकाई की ओर से 25 फरवरी की रात प्रदूषित पानी नाले में छोड़ा गया था। इसकी सूचना रीको कर्मचारी संघ ने राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल को दी थी। इस पर मण्डल की चेयरपर्सन वीनू गुप्ता के 72 घंटे में कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

इस पर शनिवार सुबह रीको, प्रदूषण मण्डल एवं तहसील कार्यालय के कार्मिक कार्रवाई करने पहुंचे, लेकिन बुलडोजर खराब हो गया। इस पर कार्रवाई स्थगित की गई। संघ महामंत्री विक्रम परिहार ने बताया कि अधिकारियों ने बाद में वापस कार्रवाई का आश्वासन दिया है। इस दौरान रीको कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अशोक वाल्मीकि, गुलाबचंद, विनोद कुमार, श्रवण कुमार, मगनाराम आदि मौजूद रहे।

इधर, गुरडाई मार्ग पर बहा पानी, बुलडोजर से करवाई सफाई
पाली। एनजीटी के सख्त आदेश के बावजूद औद्योगिक क्षेत्र के नालों में प्रदूषित पानी बहाया जा रहा है। जो कई बार सडक़ों पर भी बहता है। ऐसा ही शनिवार को गुरडाई मार्ग पर हुआ। वहां रीको के नाले से प्रदूषित पानी बहकर सडक़ पर बहने लगा। इस पर क्षेत्रवासियों व राहगीरों ने रोष जताया। इसकी सूचना पर तहसीलदार व प्रदूषण नियंत्रण मंडल के अधिकारी मौके पर पहुंचे और जांच की।

इसके बावजूद यह पता नहीं लगा कि प्रदूषित पानी कहां से आ रहा है। इसके बाद बुलडोजर की सहायता से नाले पर लगे पत्थरों को हटाकर देखा गया कि पानी कहां से आ रहा है, लेकिन पता नहीं लग सका। इसके बाद प्रदूषण नियंत्रण मण्डल के अधिकारियों ने प्रदूषित पानी के सैम्पल लिए और घरों से निकलने वाले पानी पर भी रोके लगा दिए।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned