बांगड़ में बनेगा पोस्ट कोविड क्लीनिक व वार्ड

-कोरोना को हराने के बाद सता रहा है पोस्ट कोविड

By: Suresh Hemnani

Updated: 27 Oct 2020, 09:37 AM IST

पाली। कोरोना की जंग जीतने के बाद पॉजिटिव हुए मरीजों को पोस्ट कोविड सता रहा है। घबराहट व हाथ पैरों में जकडऩ के साथ सांस फुलने आदि की शिकायत से मरीज परेशान है। उनके लिए अब बांगड़ चिकित्सालय में नई व्यवस्था की जा रही है। वहां कमरा नम्बर 26 को पोस्ट कोविड की ओपीडी क्लीनिक का रूप दिया गया है। वहीं नए आइसीयू 2 एम को पोस्ट कोविड वार्ड और अधिक बीमार रहने वाले के लिए आइसीयू सेंटर स्थापित करने की कवायद की गई है।

पोस्ट कोविड क्लीनिक, वार्ड व आइसीयू में चिकित्सकों को दो पारी में लगाया गया है। इसमें पहली पारी के चिकित्सक सुबह 9 से तीन बजे तक सेवाएं देंगे। इसके इंचार्ज डॉ. महेश गुप्ता, मनोरोग चिकित्सक डॉ. विष्णु कुमार, आयुष चिकित्सक डॉ. जयराजसिंह व आइडटिशियन कविता बैरवा होंगे। जबकि द्वितीय पारी में दोपहर 3 से शाम 7 बजे तक रेस्पीरेटरी फिजिशियन डॉ. महेश गुप्ता, मनोरोग चिकित्सक डॉ. दलजीत सिंह, आयुष चिकित्सक डॉ. रविन्द्र कुमार सहरीया व डॉ. कल्याण प्रसाद मीणा सेवा देंगे।

योग व व्यायाम से करेंगे उपचार
पोस्ट कोविड के लिए अतिरिक्त चिकित्सक, मेडिकल स्टॉफ, चिकित्सा कर्मी, नर्सिंग कर्मी आदि की व्यवस्था प्रमुख चिकित्सा अधिकारी करेंगे। पोस्ट कोविड क्लीनिक ओपीडी में लगाए गए चिकित्सक एक्सरसाइज तथा योग के माध्यम से उपचार करेंगे। यहां कोविड रिकवर्ड के प्रमुख लक्षण के रिकॉर्ड का संधारण किया जाएगा। व्ययाम के लिए क्लीनिक में आवश्यक उपकरण उपलब्ध रहेंगे।

मरीज का तीन दिन में करेंगे फॉलोअप
कोविड केयर इंचार्ज नेगेटिव हुए मरीज का तीन दिन बाद फोलोअप करेंगे। इसके लिए उसे क्लीनिक में बुलाया जाएगा। मरीज में पोस्ट कोविड के लक्षण मिलने पर उसका स्वास्थ्य परीक्षण कर वापस विषय विशेषज्ञ से कोविड जांच करवाई जाएगी। इसके बाद काउंसलिंग, टेस्टिंग, व्यायाम व योग की जानकारी दी जाएगी। जरूरत होने पर उसे तत्काल प्रभाव से पोस्ट कोविड वार्ड या आइसीयू में भर्ती किया जाएगा।

181 हैल्प लाइन का करेंगे उपयोग
काउंसलिंग के लिए मुख्यमंत्री 181 हैल्पलाइन का उपयोग कर कोविड अस्पताल में बेड दिलवाने एवं होम आइसोलेशन में काउंसलिंग करवाने के लिए किया जाएगा। मरीज के अस्वस्थ होने पर कोविड हॉस्पिटल में स्थापित वॉररूम को सूचना दी जाएगी। वहां से तत्काल एम्बुलेंस रैफर ट्रांसपोर्ट से वार्ड आइसीयू की व्यवस्था करवाते हुए संबंधित व्यक्ति को पोस्ट कोविड वार्ड व आइसीयू में भर्ती कराया जाएगा।

सेवाएं कर दी शुरू
पोस्ट कोविड क्लीनक व अन्य सुविधाओं को शुरू कर दिया है। यह व्यवस्था राज्य सरकार के निर्देश पर पोस्ट कोविड के मरीज अधिक आने से की गई है। इससे मरीजों के काफी लाभ होगा। उनको पूरे दिन जांच व उपचार की व्यवस्था मिलेगी। -डॉ. महेश गुप्ता, इंचार्ज, पोस्ट कोविड क्लीनिक व चेस्ट फिजिशियन

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned