आर्थिक पिछड़े बच्चों को सक्षम करने की रणनीति के लिए बना 'राजपूत शिक्षा कोष

आर्थिक पिछड़े बच्चों को सक्षम करने की रणनीति के लिए बना 'राजपूत शिक्षा कोष

rajendra denok | Publish: Mar, 14 2018 01:04:55 PM (IST) Pali, Rajasthan, India

- पाली में हुई बैठक

 

पाली. शहर के वीर दुर्गादास राजपूत छात्रावास पाली में सोमवार को राजपूत शिक्षा कोष की पहली बैठक सम्पन्न हुई। इसमें समाज के आर्थिक रूप से अक्षम प्रतिभावान बालकों के शिक्षा की सुचारू एवं स्थाई व्यवस्था के लिए समाज के प्रबुद्धजनों से राजपूत शिक्षा कोष को सहयोग करने के लिए आह्वान किया। ट्रस्ट के संस्थापक पद्म भूषण एवं पूर्व सांसद डॉ. नारायणसिंह माणकलाव ने बताया कि वर्तमान में भी राजपूत समाज की 70 प्रतिशत आबादी गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करती है। वो 70 प्रतिशत आबादी अपने स्वाभिमान के लिए बीपीएल में अपना नाम दर्ज नहीं करवा पाती है। इतनी विषम परिस्थितियों में भी इन परिवारों में कई ऐसे प्रतिभावान और होनहार बालक है जिन्हें उचित समय पर अच्छी शिक्षा मिल जाए तो वो बहुत प्रगति कर सकते है। इसका अंदाजा समाज के प्रबुद्धजनों को राजपूत प्रतिभा परीक्षा 2017 में हुआ। जब चौपासनी शिक्षा समिति में पूर्व छात्र समिति की हीरक जयन्ती का समारोह आयोजित था। जिसके उद्घाटन सत्र में ओंकार सिंह बाबरा (रिटा.आईएएस) ने 10 करोड़ के स्थायी कोष के गठन का प्रस्ताव रखा और इसकी स्थापना करते हुए अपनी तरफ से 5 लाख का अंशदान दिया। इस मौके पर ओंकार सिंह ने कहा कि इस राजपूत शिक्षा कोष में जमा फण्ड के ब्याज राशि से अभावग्रस्त प्रतिभावान बालकों को नियमित रूप से छात्रवृतियां और शिक्षा ऋण दिए जाएंगे। जुलाई 2017 से वर्तमान तक 11 जरूरतमंद राजपूत बालकों को 6 लाख 2000 रुपए की छात्रवृतियां भी दी जा चुकी है। ट्रस्ट के संस्थापक डॉ. नारायणसिंह माणकलाव ने बताया कि इन प्रतिभाओं को शिक्षा दान देकर उनके भविष्य को संवारने का दायित्व राजपूत समाज के प्रत्येक सक्षम परिवार का है।

इन्होंने किए विचार व्यक्त

मारवाड़ राजपूत सभा के अध्यक्ष हनुमानसिंह खांगटा ने कहा कि निर्धन और अनाथ कन्याओं को चिह्नित कर उनका विवाह करवाने के लिए संगठन प्रयास करेगा। इस मौके पर माधो सिंह राठौड़, कर्नल मनोहर सिंह कोरणा, चक्रवर्ती सिंह जोजावर, रिटायर्ड जिला कलक्टर पाली करण सिंह, आयुक्त नगरपरिषद इन्द्रसिंह और एसडीएम पाली महावीर सिंह ने अपने विचार व्यक्त किए।

यह थे मौजूद

इस अवसर पर खुशवीर सिंह जोजावर, लूण सिंह दूधिया, सवाई सिंह पार्षद, चेतनसिंह झाला, जयपालसिंह बाला, बाघसिंह गुड़ा, पृथ्वीराज सिंह , भरतसिंह भाकरीवाला, युवराजसिंह कुरना, भवानी सिंह सादड़ा, महावीरसिंह टेवाली, भीमसिंह सोवणिया, गजेन्द्रसिंह, प्रहलादसिंह उतमण, शैतानसिंह गिरवर, स्वरूप सिंह भाटी, जसवन्तसिंह ठाकुरला सहित राजपूत समाज के कई गणमान्य मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned