ओवरलोड बजरी के लिए नम्बर प्लेट तक हटा दी, रोकने वाले चुप!

- बिना नम्बर प्लेट की डम्परों में ले जाते हैं ओवरलोड बजरी
- दिन में सौ से अधिक बजरी के ओवरलोड ट्रक निकलते, पुलिस व परिवहन विभाग की चुप्पी

By: Suresh Hemnani

Published: 26 Jun 2020, 11:30 AM IST

पाली/रायपुर मारवाड़। ब्यावर-पिंडवाड़ा फोरलेन [ Beawar-Pindwara Fourlane ] पर रायपुर व सेंदड़ा क्षेत्र में इन दिनों बजरी माफिया [ Gravel mafia ] के हौंसले इस कदर बुलंद हैं कि उन्होंने अपने डम्परों से नम्बर प्लेटें से वाहनों के नम्बर तक हटा दिए है। ताकि यह पहचान न हो सके कि कौनसा वाहन बजरी लेकर गया है। इधर, पुलिस व परिवहन विभाग [ transport Department ] ने भी इस पर चुप्पी साध रखी है, दिन भर में सौ से अधिक डम्पर बजरी से भरे ओवरलोड [ Gravel Overload Dumper ] निकलते से तक हटा दी है। यातायात नियम [ Traffic rules ] तो ताक पर है।

रायपुर व जैतारण क्षेत्र से नदियों व लीज की जमीन से आठों पहर बजरी का खनन किया जा रहा है। डम्परों व ट्रोलों में ओवरलोड़ बजरी लाद ब्यावर, जयपुर, भीलवाड़ा भेजी जा रही है। बर-रायपुर के बीच फोरलेन टोल के रिकॉर्ड की बात करे तो रोजाना 80 से 100 डम्पर बजरी से लदे गुजर रहे है। इनमें 80 फीसदी ओवरलोड होते हैं।

जैतारण हो रहा छलनी
जैतारण के आसरलाई, मोहराई, बांझाकुड़ी, फूलमाल सहित अन्य गांवों से रोजाना 30 हजार टन बजरी दूसरे जिले में सप्लाई की जा रही है। बजरी से ओवरलोड लदे वाहन बर चौराहे से होकर फोरलेन के रास्ते ब्यावर की ओर गुजरते है।

तीन माह में दो घंटे की कार्रवाई
परिवहन विभाग के जिला अधिकारी राजेन्द्र दवे ने उडऩ दस्ता टीम लगाने का दावा किया था। तीन माह बाद यह टीम हरकत में आई। वह भी बर पुलिस चौकी के सामने दो घंटे नाकाबंदी कर चलती बनी, जो आज तक दुबारा नहीं लौटी। पुलिस की बात करे तो जिला पुलिस अधीक्षक राहुल कोटोकी के दखल पर रायपुर व सेंदड़ा पुलिस ने नाकाबंदी कर 25 ओवरलोड वाहनों को सीज किया था। दुबारा पुलिस ने भी रूचि नहीं दिखाई। इधर, खनिज विभाग ने तो आज तक ध्यान नहीं दिया।

वापस कार्रवाई करेंगे
ओवरलोड बजरी के वाहनों से नम्बर प्लेट हटाकर चलाना नियमों के खिलाफ है। पहले भी कार्रवाई की थी, फिर से कार्रवाई करेंगे, जैतारण क्षेत्र से पहले भी शिकायतें मिली थी। - राजेन्द्र दवे, डीटीओ, पाली।

गंभीर है, कार्रवाई करेंगे
अवैध बजरी पर कार्रवाई करेंगे, ओवरलोड बजरी के वाहनों से नम्बर प्लेट हटाना तो गंभीर है। सम्बंधित थानाधिकारियों व अन्य विभागों के साथ मिलकर कार्रवाई करेंगे। - तेजपाल सिंह, एएसपी, पाली।

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned