हाइवे पर फिर लूट, चाकू दिखाकर दम्पती को लूटा

रोहट. पाली-जोधपुर हाइवे पर लुटेरों का राज हो गया है। लुटेरे लगातार आमजन के साथ वारदातें कर रहे हैं, लेकिन उनका सुराग नहीं लग रहा है।

By: Satydev Upadhyay

Updated: 05 Sep 2019, 01:33 AM IST

रोहट. पाली-जोधपुर हाइवे पर लुटेरों का राज हो गया है। लुटेरे लगातार आमजन के साथ वारदातें कर रहे हैं, लेकिन उनका सुराग नहीं लग रहा है। मंगलवार देर रात को माउण्ट आबू से जोधपुर जा रहे कार सवार दम्पती को एक अन्य कार में सवार होकर आए लुटेरों ने चाकू दिखाकर लूट लिया। पुलिस ने नाकाबंदी भी करवाई, लेकिन लुटेरों का सुराग नहीं लगा। रोहट थाना पुलिस के अनुसार जोधपुर के कागा निवासी तुलसीराम पंवार, उनकी पत्नी व मां माउण्ट आबू माता मंदिर के दर्शन कर वापस जोधपुर जा रहे थे। देर रात करीब सवा बारह बजे खारडा व ओम बन्ना के बीच पीछे से आ रही एक अन्य कार ने उनको टक्कर मारने का प्रयास किया। जब वे रुके तो कार सवार चार जने नीचे उतरे और उन्हें चाकू दिखाकर सोने की चेन व 500 रुपए लूटकर भाग गए। सूचना पर रोहट थानाधिकारी कमलेश गहलोत मौके पर पहुंचे। उल्लेखनीय है कि तीन दिन पूर्व भी पाली रेलवे घुमटी के निकट एक ट्रक चालक को कार सवार लुटेरों ने लूटा था, दोनों ही वारदातें नहीं खुली है।

नकबजनी के दो आरोपी गिरफ्तार
सादड़ी. लालराई गांव सरहद स्थित मामाजी मंदिर में गत दिनों नकबजनी की वारदात के मामले में पुलिस ने दो जनों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से चोरी का माल बरामदगी का प्रयास जारी है। हैड कांस्टेबल दलपतसिंह राठौड़ ने बताया कि लालराई निवासी पूर्व सरपंच खीमाराम पुत्र वालाराम माली ने मामला दर्ज कराया था कि मामाजी मंदिर से चोर जेवरात, नकदी व सामान चुरा ले गए थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। इस मामले में पुलिस ने लाटाड़ा निवासी हरीश कुमार पुत्र बंशीलाल भील, भाटून्द हाल बीजापुर निवासी सुरेश कुमार पुत्र शंकरलाल भील को गिरफ्तार किया।

हर माह एसिड से भरे दस टैंकर लाते, पाली के आस-पास किए खाली
उदयपुर से खतरनाक एसिड पाली में खाली करवाने का मामला
पाली. उदयपुर की औद्योगिक इकाइयों के केमिकलयुक्त अपशिष्ट से भरा टैंकर पाली के निकट बांडी नदी में खाली कर उसे दूषित करने के मामले में गिरफ्तार मुख्य आरोपी विकास नगर निवासी रावताराम पुत्र शिवलाल जाट व उसके सहयोगी रजत नगर निवासी सुरेन्द्र सिंह पुत्र कुंदन सिंह राजपूत को न्यायालय ने रिमाण्ड पर भेज दिया। पूछताछ में उन्होंने कई खुलासे किए है। सदर थानाधिकारी सुरेश चौधरी के अनुसार पुनायता के निकट बांडी नदी में फैक्ट्रियों का केमिकलयुक्त हानिकारक अपशिष्ट बांडी नदी में खाली करने के मामले में रावताराम व सुरेन्द्रसिंह रिमाण्ड पर है। पूछताछ में उन्होंने बताया कि हर माह एसिड से भरे दस टैंकर वे उदयपुर से पाली लाते और मंडिया रोड व बांडी नदी में खाली करते। इसके एवज में मोटी रकम वसूलते। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी, फर्जी बिल्टी बनाने व मानव जीवन संकट में डालने के आरोप में मामला दर्ज किया। इससे पहले इस मामले में टैंकर के साथ पुलिस ने गत सात अगस्त को नागौर जिले के पादूकलां (सथानी) निवासी रामकिशन (28) पुत्र हरजीराम जाट व रोहट थाना क्षेत्र के मांडावास गांव निवासी भगाराम (29) पुत्र गोकुलराम देवासी को गिरफ्तार किया था।

Satydev Upadhyay
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned