राष्ट्रीय योग प्रतियोगिता में पाली की सरपंच कुसुम राठौड़ ने बढ़ाया मान, भारत योग रत्न का मिला सम्मान

-पाली जिले के गुड़ारामसिंह गांव की सरपंच राठौड़ ने नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय योग प्रतियोगिता में लिया भाग

Sarpanch Kusum Rathore gets Bharat Yoga Ratna :

Suresh Hemnani

November, 2108:21 PM

पाली/राणावास। Sarpanch Kusum Rathore gets Bharat Yoga Ratna : नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय योग प्रतियोगिता [ National yoga competition ] में योग के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए पाली जिले के गुड़ारामसिंह गांव की सरपंच कुसुम राठौड़ को आयुष मंत्रालय [ Ministry of AYUSH ] ने भारत योग रत्न से सम्मानित किया। इस प्रतियोगिता में पूरे देश से आए प्रतिभागियों में 11 जनों को योग रत्न से नवाजा गया है।

सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए कुसुम राठौड और जोधपुर के ललित भारती को पंजाब वेलफेयर एंड स्पोट्र्स क्लब के अध्यक्ष कृष्णकुमार व विधायक महेंद्र यादव ने यह सम्मान प्रदान किया। राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन के लिए दोनों ने स्वर्ण पदक प्राप्त किया है। ऐसे में दोनों ने जनवरी 2020 में आयोजित एशियन चैम्पियनशिप में अपनी जगह सुनिश्चित की है। इसके साथ ही दोनों योग के नेशनल रेफरी भी बने हैं।

योग की शिक्षा दे रही युवा सरपंच
मारवाड़ उपखण्ड के गुड़ारामसिंह निवासी कुसुम राठौड़ अपने गांव की सरपंच हैं। जोधपुर में अपने ससुराल में रहने के साथ ही वह सरपंच होने के कार्य भी पूरे करती हैं। लाडनूं से योग में एमए करने के बाद उन्होंने इस क्षेत्र में आगे बढऩे की ठानी। उनका मानना है कि वर्र्किंग वुमन को योग से जुडकऱ खुद को और परिवार को स्वस्थ्य रखने में सहायक होना चाहिए। वह अपने गांव में महिलाओं और बच्चों के लिए योग कैंप आदि का आयोजन करवाती हैं।

उन्होंने बताया कि योग करने में बैंककर्मी पति कृपालसिंह सोलंकी, ससुर भुपेन्द्रसिंह, बहन अलका, दादोसा अर्जुनसिंह, पिता विक्रमसिंह, सुरजभानसिंह, जितेन्द्रसिंह आदि ने हौंसला अफजाई की। उन्होंने बताया कि उनका सपना था कि वह 1 दिन भारतीय टीम का ब्लेजर पहने और इस राष्ट्रीय योग प्रतियोगिता में शामिल होकर उनका यह सपना पूरा हो गया।

खेल में जोड़ा जाए योग को
कुसुम राठौड़ की मंशा है कि योग को जल्द से जल्द पूर्ण रूप से खेल में जोड़ा जाए। जिससे योग को और भी बढ़ावा मिल सके। इसके लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकार दोनों से निवेदन करते हैं कि योग को शिक्षा का एक अंग बनाया जाए जिससे आज की युवा पीढ़ी को सुनहरा व सुरक्षित भारत की तरफ ले जाया जा सके।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned