मिठाई की दुकान से पॉलीथिन थैलियां जब्त करने पहुंचे नगर परिषद दल से मारपीट

- दुकानदार ने भी लगाया मारपीट का आरोप

- सफाईकर्मियों ने आरोपितों को गिरफ्तार नहीं करने पर दी काम बंद करने की चेतावनी

 

By: rajendra denok

Published: 16 May 2018, 10:55 AM IST

पाली. सेशन कोर्ट के बाहर स्थित एक मिठाई की दुकान पर पॉलीथिन थैलियां जब्त करने गए नगर परिषद दल के साथ दुकानदार व स्टाफ ने मारपीट कर दी। घटना में दोनों पक्षों के पांच जने घायल हुए। इसमें से तीन को जोधपुर रेफर किया गया तथा दो का बांगड़ अस्पताल में उपचार जारी है। घटना को लेकर दोनों पक्षों ने परस्पर मामले दर्ज कराए हैं। इधर, सफाईकर्मियों ने भी आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर काम बंद करने की चेतावनी दी है। इसके चलते सदर, कोतवाली, औद्योगिक थानाप्रभारी सहित आरएसी के जवान मौके पर नजर रखे रहे। देर रात तक पुलिस मौके पर तैनात रही।

नगर परिषद आयुक्त इन्द्रसिंह राठौड़ ने राजस्व अधिकारी रवि खन्ना के जरिए कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इसमें बताया गया कि पॉलीथिन कैरी बैग पर प्रतिबंध है। इसे लेकर नगर परिषद की ओर से कार्रवाई की जा रही है। मंगलवार दोपहर को नगर परिषद के डीओसी प्रभारी व राजस्व अधिकारी रविकुमार खन्ना, लिपिक बादलसिंह के नेतृत्व में एक दल सेशन कोर्ट के निकट स्थित मिठाई की दुकान पर गया। जहां पॉलीथिन कैरी बैग जब्त करने की कार्रवाई कर रहे थे तो दुकानदार सवाईसिंह राजपुरोहित व उनके कर्मचारी भवानीसिंह, कमलेश, बलवीरसिंह, जोगेन्द्र, हितेश मेवाड़ा, रईश उर्फ दिलीप, असलम खिलेरी सहित 14-15 अन्य ने जातिसूचक शब्दों से अपमानित करते हुए लोहे के सरियों, बांस आदि से हमला कर दिया। इसमें नगर परिषद के मंडिया रोड निवासी ललित (27) पुत्र अशोक वाल्मीकि, बापूनगर निवासी रूपचंद (30) पुत्र सोहनलाल वाल्मीकि, पुराना बस स्टैंड निवासी अजय (24) पुत्र जगदीश वाल्मीकि घायल हो गए। उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद जोधपुर रेफर किया गया। पुलिस के अनुसार मारपीट में दूसरे पक्ष के सोसायटी नगर निवासी भवानीसिंह पुत्र हुकमसिंह राजपुरोहित व कमलसिंह पुत्र हुकमसिंह राजपुरोहित भी घायल हुए।

दूसरे पक्ष ने भी दर्ज कराया मामला

दूसरे पक्ष के सोसायटी नगर निवासी जोगेन्द्रसिंह पुत्र हुकमसिंह ने भी रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि दोपहर करीब ढाई बजे ओमप्रकाश, बलवीरसिंह, भवानीसिंह, कमलसिंह आदि ग्राहकी कर रहे थे। इतने में नगर परिषद के राजस्व अधिकारी रवि खन्ना, लिपिक बादलसिंह मेड़तिया, रूपचंद, ललित आदि आए तथा 10 किलो मिठाई खरीदी लेकिन रुपए नहीं दिए। इस बात को लेकर तकरार हो गई तथा उन्होंने मारपीट करना शुरू कर दिया।

इधर, दुकान की लीज निरस्त करने की मांग

नगर परिषद कार्मिकों से मारपीट होने से गुस्साए सफाईकर्मी नगर परिषद सभापति महेन्द्र बोहरा, आयुक्त इन्द्रसिंह राठौड़ से मिले तथा मामले में आरोपितों को शीघ्र गिरफ्तार करने नहीं किए जाने की स्थिति में पेनडाउन हड़ताल की चेतावनी दी। उन्होंने नगर परिषद की ओर से आरोपितों को दी दुकान की लीज निरस्त करने, प्रथम तल से अतिक्रमण हटाने की भी मांग की। इधर, उन्होंने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ज्योतिस्वरूप शर्मा को ज्ञापन सौंपा। इसमें उन्होंने आरोपितों को बुधवार सुबह 11 बजे तक गिरफ्तार नहीं करने की स्थिति में कार्य बहिष्कार कर पेनडाउन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी।

rajendra denok Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned