एक ही परिवार में छह संक्रमित, योग से दी कोरोना को मात

- योग व गर्म पानी से पांच दिनों में ही अस्पताल से स्वस्थ होकर लौटे

By: Suresh Hemnani

Published: 01 Jul 2020, 09:15 AM IST

पाली। एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आता है तो पूरी कॉलोनी में भय का माहौल हो जाता है। लोगों का घरों से निकलना बंद हो जाता है। लेकिन, एक ही परिवार के छह सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव आने पर उनकी मनोदशा का सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

शहर के जोधपुरिया बास में 25 मई को मुम्बई से राकेश जैन पाली पहुंचे, जो कि संक्रमित थे। इस कारण परिवार के चार सदस्य और संक्रमित हो गए। लेकिन, उन्होंने हौसला बनाए रखा और योग का अभ्यास जारी रखा। इससे वे कोरोना को मात देने में सफल हो गए।

शहर के जोधपुरिया बास निवासी राकेश जैन ( 41) का मुम्बई में व्यवसाय है। जैन 25 मई को पाली लौटे और बांगड़ अस्तपाल में जांच करवाई गई। 28 मई को जांच में जैन कोरोना पॉजिटिव आए तो पूरे परिवार की जांच करवाई गई तो पांच जने और पॉजिटिव आए। राकेश के पिता मोतीलाल जैन 65, पुत्र दिव्यांस 13, पत्नी लीला 41 और भाई की पत्नी वर्षा 36 व भतीजा रिषभ 18 कोरोना पॉजिटिव आए।

इन सभी लोगों को बांगड़ अस्तपाल में भर्ती किया गया। सभी लोगों ने नियमित रूप से अस्पताल में योग अभ्यास किया। गर्म पानी का सेवन किया। कोरोना एडवाइजरी का पालन करते हुए पांच से एक सप्ताह के भीतर परिवार के सभी सदस्य स्वस्थ होकर वापस घर लौट आए।

योग की सलाह मानी
राकेश जैन ने बताया कि लोगों ने योग करने की सलाह दी। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन की ओर से किए गए एक विस्तृत शोध में यह बताया गया कि प्राणायाम के जरिए इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है। यही वजह है कि योग से इम्यूनिटी को मजबूत हुई और कोरोना को मात दे पाए।

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned