scriptSports grounds will be available in Pali district | खिलाड़ियों के सपनों को अब लगेंगे पंख, मैदानों की मिलेगी सुविधा, निखरेगा कौशल | Patrika News

खिलाड़ियों के सपनों को अब लगेंगे पंख, मैदानों की मिलेगी सुविधा, निखरेगा कौशल

- सुविधाएं मिलने पर खेलों की ओर होगा झुकाव
- पाली जिले के निमाज में होगा खेल मैदान का विकास
- पत्रिका बनी खिलाडिय़ों व खेलप्रेमियों की आवाज

पाली

Published: December 08, 2021 04:27:31 pm

पाली/निमाज। जिले के निमाज कस्बे समेत क्षेत्र के खिलाडिय़ों के सपनों को अब पंख लगने की आशा बलवान हो गई है। खिलाडिय़ों को अब खेल मैदानों के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। कस्बे के आदिनाथ स्टेडियम में आगामी दिनों में बनने वाले खेल मैदानों से समस्याओं का निस्तारण हो सकेगा। राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के अंतर्गत स्कूल में अध्ययनरत विद्यार्थियों के शारीरिकवर्धन के लिए खेलकूद के लिए खेल मैदान निर्माण किया जाएगा।
खिलाड़ियों के सपनों को अब लगेंगे पंख, मैदानों की मिलेगी सुविधा, निखरेगा कौशल
खिलाड़ियों के सपनों को अब लगेंगे पंख, मैदानों की मिलेगी सुविधा, निखरेगा कौशल
इससे स्कूल में खेलकूद प्रतियोगिताएं आयोजित हो सकेंगी। जिससे ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को उभरने का मौका मिलेगा। राजस्थान पत्रिका ने कस्बे समेत क्षेत्र में राष्ट्रीय खेल हॉकी व खेल मैदानों को लेकर अलग-अलग अंकों विभिन्न शीर्षकों से हॉकी समेत खेल मैदान की हकीकत से रूबरू कराया था। अब जिला कलक्टर ने मनरेगा योजना में खेल मैदान विकसित करने के लिए निमाज के खेल मैदान के लिए 39.26 लाख रुपए स्वीकृत किए हैं, जिससे खेल मैदान विकसित हो सकेंगे।
पत्रिका ने भी उठाया था खिलाडिय़ों व खेलपे्रमियों का दर्द
राजस्थान पत्रिका ने समय-समय पर क्षेत्र के खेलप्रेमियों एवं खिलाडिय़ों की समस्याओं के साथ आदिनाथ स्टेडियम में सुविधाओं की दरकार को लेकर समाचार प्रकाशित किए थे। पत्रिका ने 21 अगस्त के अंक में रियासत काल से हॉकी का गढ़ रहा निमाज, स्टेडियम में सुविधा बढ़े तो निखरे प्रतिभाएं, 27 अगस्त के अंक में सब्जी बेच रहा हॉकी में राष्ट्रीय स्तर पर खेल चुका खिलाड़ी, 29 अगस्त के अंक में खेल कॉम्प्लेक्स बने तो हमारे खिलाडिय़ों के सपनों को लगे पंख, एक सितंबर के अंक में सुविधाओं का टोटा: स्टेडियम में छांव तलाशते रहे खिलाड़ी और दर्शक शीर्षकों से खबरें प्रकाशित कर खिलाडिय़ों व खेलप्रेमियो के दर्द से रूबरू कराया था।
ये सुविधाएं रहेंगी खेल मैदान में
खेल मैदान विकास कार्य के तहत खेल मैदान में हॉकी खेल मैदान निर्माण कार्य, 200 मीटर रेसिंग ट्रेक निर्माण कार्य, फुटबॉल, कबड्डी, वॉलीबाल, खो-खो, बैडमिंटन, बास्केटबॉल मैदान निर्माण कार्य, स्टेज निर्माण कार्य और टांका निर्माण के साथ बालक एवं बालिकाओं के लिए मूत्रालय निर्माण कार्य भी होगा। जिससे स्टेडियम में प्रतिदिन आने वाले खिलाड़ी खेल मैदान की सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे।
बनने के बाद नहीं बढ़ी स्टेडियम में सुविधाएं
कस्बे के भगवान महावीर राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के पास ही भगवान आदिनाथ स्टेडियम का शिलान्यास 2003 में हुआ था, लेकिन निर्माण के बाद से ही स्टेडियम में समुचित सुविधाएं उपलब्ध नहीं होने से खिलाडिय़ों को मायूस होना पड़ता है। इतने वर्ष बीत जाने के बाद भी स्टेडियम सुविधाओं के लिए तरस रहा है। कस्बे के स्टेडियम पर प्रतिदिन बालक-बालिकाओं द्वारा सुबह-शाम दौड़, फुटबॉल समेत अन्य खेलों के साथ सेना भर्ती के लिए भी युवाओं द्वारा अभ्यास किया जाता है। स्टेडियम पर रनिंग ट्रैक, बास्केटबॉल, वॉलीबाल, खो-खो, कबड्डी जैसे खेलों के मैदानों की सुविधाओं की कमी खिलाडिय़ों को हमेशा खलती रही है।
कंटीली घास बनती है राह में रोड़ा
कस्बे का आदिनाथ स्टेडियम बड़े भूभाग में फैला है। कहने को तो स्टेडियम में बैठने के लिए सीढिय़ां बनी हैं एवं एक तरफ कुछ भाग में पिछले वर्षों में टीन शेड भी बना है, लेकिन मैदान में वर्षा काल के समय कंटीली घास उग आती है। जो करीबन पूरे मैदान को ढक देती है। यह घास बाद में कांटों में तब्दील हो जाती है। जिससे यहां अभ्यास करने वाले खिलाडिय़ों की हालत खराब हो जाती है।
निखरेंगी ग्रामीण प्रतिभाएं
मनरेगा के खेल मैदान विकास कार्यक्रम के तहत 39.26 लाख रुपए की स्वीकृति मिली है। इससे खेल मैदान विकसित किए जाएंगे। इससे क्षेत्र में खेल प्रतिभाओं को अवसर मिलेगा। खिलाडिय़ों को खेल मैदान एवं खेल सुविधाओं के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। बास्केटबॉल, रैसिंग ट्रैक, वॉलीबाल आदि खेल मैदान विकसित हो जाने से हॉकी समेत अन्य खेलों के प्रति माहौल अनुकूल होगा। खिलाडिय़ों का मनोबल भी बढ़ेगा। मैदान विकसित करने का काम जल्द शुरू होगा। -दिव्या कुमारी, सरपंच, ग्राम पंचायत, निमाज
खेल मैदान व संसाधन जरूरी
खेलों विशेषकर हॉकी में निमाज गढ़ रहा है। यहां से कई खेल प्रतिभाएं राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर पहुंची है। खेल प्रतिभाओं में निखार लाने के लिए खेल मैदान और संसाधन जरूरी है।इनके अभाव में प्रतिभाओं को निखरने का अवसर ही नहीं मिल पाता है। भगवान आदिनाथ स्टेडियम निर्माण के बाद से ही सुविधाएं अभी तक नहीं बढ़ी हैं। अब राशि स्वीकृत हो जाने से स्टेडियम में हॉकी व अन्य खेलों के डवलप होने व सुविधाएं बढ़ जाने से खिलाडिय़ों व खेलप्रेमियों को निराश नहीं होना पडेग़ा। -भगवतीसिंह उदावत, पूर्व सरपंच, व राष्ट्रीय खिलाड़ी बॉस्केटबाल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Corona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरGhana: विनाशकारी विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 59 घायलभारत ने जानवरों के लिए विकसित किया पहला कोरोना वैक्सीन,अब शेर और तेंदुए पर ट्रायल की योजना50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करआज जारी होगा कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं के लिए होंगे कई वादे'कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते', अमर जवान ज्योति के वॉर मेमोरियल में विलय पर राहुल गांधीVIDEO: राजस्थान का 35 प्रतिशत हिस्सा कोहरे से ढका, अब रहेगा बारिश और ओलावृष्टि का जोर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.