खुलासा : आबो-हवा में जहर घोल रही कपड़ा इकाइयां, जारी करेंगे नोटिस

-प्रदूषण नियंत्रण मंडल की टीम ने किया खुलासा
-चिमनी जांच की व्यवस्था नहीं

By: Suresh Hemnani

Published: 07 Apr 2021, 08:34 AM IST

पाली। राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) की सख्ती के बावजूद शहर की औद्योगिक इकाइयां आबो-हवा दूषित कर रही है। प्रदूषण नियंत्रण मंडल की जांच में खुलासा हुआ है कि औद्योगिक इकाइयों की चिमनियों की सफाई नियमित रूप से नहीं हो रही है। चौंकाने वाली बात यह भी है कि चिमनियों पर जाने के लिए सीढिय़ां तक नहीं है। अब ऐसी इकाइयों पर गाज गिर सकती है।

प्रदूषण नियंत्रण मंडल जयपुर के निर्देश पर किशनगढ़ और चित्तौडगढ़़ की दो टीमें कपड़ा इकाइयों का निरीक्षण कर रही है। सोमवार और मंगलवार को शहर की करीब एक दर्जन कपड़ा इकाइयों का निरीक्षण किया गया, जिसमें 8 इकाइयों की चिमनियों में खामियां पाई गईं। चिमनी की जांच के लिए सीढिय़ां जरूरी है। बिना सीढ़ी चिमनी की जांच करना संभव नहीं है। मंडल ने इसे बड़ी लापरवाही मानते हुए सभी इकाइयों को नोटिस जारी करने का निर्णय किया है। मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी आर के बोड़ा ने बताया कि सभी इकाइयों को नोटिस जारी किया जाएगा।

कपड़ा उद्योग में खलबली
प्रदूषण नियंत्रण मंडल की ओर से शहर की 14 कपड़ा इकाइयों पर 10-10 लाख रुपए की पैनल्टी लगाने से कपड़ा उद्योग में खलबली मची हुई है। इसके अलावा मंडल की टीमों द्वारा निरीक्षण किया जा रहा है।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned