मुख्यमंत्री के गृहसंभाग में तीसरा मोर्चा सक्रिय, पंचायतीराज चुनावों में दिखा रहा ताकत !

-कई जिलों में उतारे प्रत्याशी

By: rajendra denok

Published: 21 Nov 2020, 08:39 PM IST

राजेन्द्रसिंह देणोक


पाली. विधानसभा चुनावों में प्रदेश की कुछ सीटों पर अपनी मजबूत पकड़ रखने वाला तीसरा मोर्चा अब छोटे चुनावों में भी ताकत की आजमाइश कर रहा है। प्रदेश के 21 जिलों में जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव चार चरणों में होने जा रहे हैं। इन चुनावों में मोर्चे ने अपने उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं। कई सीटों पर प्रमुख राजनीतिक दलों को तीसरे मार्चे से कड़ी चुनौती मिल रही है। वहीं, कुछ जिलों में चुनावी समीकरण भी प्रभावित हो सकते हैं। खासतौर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृहसंभाग में तीसरे मोर्चे की सक्रियता बढ़ी है।

पाली, नागौर, बाड़मेर, जैसलमेर, जालोर समेत कई जिलों में पंचायतीराज चुनाव काफी रोचक हो गए हैं। यहां प्रदेश की दो प्रमुख राजनीतिक पार्टियों के साथ-साथ तीसरे मोर्चे ने मजबूत उपस्थिति दिखाई हैं। नागौर, बाड़मेर, बीकानेर और हनुमानगढ़ में कई वार्डों में तीसरे मोर्चे के कारण भाजपा व कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशियों की नींद उड़ी हुई है। पिछले विधानसभा चुनाव में आरएलपी, बसपा और बीटीपी जैसी पार्टियों के उम्मीदवार जीतने से प्रदेश में अब तीसरी ताकत के खड़े होने की संभावनाएं बढ़ गई है।

पंचायत समितियों में भी ठोकी ताल
तीसरा मोर्चा केवल जिला परिषद ही नहीं, पंचायत समिति सदस्यों के चुनावों में भी मजबूती से उतरा है।

जोधपुर संभाग के कई जिलों में पंचायत समिति सदस्य का चुनाव तीसरे मोर्चे के उम्मीदवार बड़ी संख्या में लड़ रहे हैं। नागौर, बाड़मेर और बीकानेर में तीसरा मोर्चा सर्वाधिक प्रभावी है। यहां प्रमुख राजनीतिक दलों को कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ रहा है।

संगठनात्मक सक्रियता बढ़ी
हालांकि, विधानसभा चुनाव में कुछ सीटों को छोड़कर प्रदेश में तीसरे मोर्चे को अब तक बड़ी ताकत कभी नहीं मिली है। पिछले एक-डेढ़ साल से पश्चिमी राजस्थान में फिर से तीसरा मोर्चा तेजी से राजनीतिक संभावनाएं तलाश रहा है। इसके लिए जिलों में संगठनात्मक ढांचा खड़ा किया जा रहा है। कई जिलों में संगठनात्मक गतिविधियां शुरू हो चुकी है। प्रमुख दलों से उपेक्षित और मजबूत पकड़ वाले लोगों को भी जोड़ा जा रहा है। पंचायतीराज के साथ-साथ पालिका चुनावों में भी उतरने की तैयारी की जा रही है।

यहां तीसरा मोर्चा दे रहा चुनौती
नागौर

कुल वार्ड-47
भाजपा-44

कांग्रेस-46
आरएलपी-39

बसपा-11
सीपीएम-02


बीकानेर

कुल वार्ड-29
भाजपा-27

कांग्रेस-29
आरएलपी-11

सीपीएम-08
बसपा-03


पाली

कुल वार्ड-33
भाजपा-33

कांग्रेस-32
आरएलपी-3

जालोर

वार्ड-31
कांग्रेस-30

भाजपा-30
आरएलपी-01

बसपा-03
एनसीपी-01

हनुमानगढ़

वार्ड-29
भाजपा-27

कांग्रेस-29
बसपा-12

माकपा-11
आरएलपी-04


बाड़मेर

वार्ड-37
भाजपा-37

कांग्रेस-37
आरएलपी-21

rajendra denok Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned