जयपुर से जुड़े नकली नोट के तार, तीन आरोपी गिरफ्तार

- पाली जिले के जाडन में डेढ़ लाख रुपए के नकली नोट पकड़ने का मामला

By: Suresh Hemnani

Updated: 10 Jan 2021, 10:15 AM IST

पाली। पाली जिले के जाडन गांव से एक व्यक्ति से एक लाख बावन हजार रुपए के नकली नोट बरामद करने के मामले में पुलिस ने तीन जनों को गिरफ्तार किया है। इनमें से दो आरोपी जयपुर क्षेत्र निवासी है, जबकि तीसरा आरोपी पूर्व में पकड़े गए आरोपी का रिश्तेदार है। तीनों आरोपियों से पूछताछ जारी है।

जयपुर से आए थे दो आरोपी, रिश्तेदार ने ही भेजा था
पुलिस अधीक्षक कालूराम रावत ने बताया कि पाली जिले के शिवपुरा थाना क्षेत्र के जाडन गांव में देवासियों की ढाणी से पुलिस ने भैराराम देवासी के कब्जे से 1 लाख 52 हजार रुपए के नकली नोट बरामद किए थे। बरामद सभी 76 नोट दो-दो हजार रुपए के हैं। गिरफ्तार आरोपी भैराराम ने पुलिस पूछताछ में बताया कि जयपुर से दो जनों ने ये नोट उसे दिए थे और इसके बदले उससे अफीम लेकर गए। मामले की जांच सदर थानाधिकारी भंवर पटेल को सौंपी गई। पुलिस ने इस मामले में कापडिय़ावास जयपुर निवासी विक्रम उर्फ रमेश पुत्र जयराम जाट, उसके गांव के ही तेजपाल पुत्र नानूराम जाट व पाली जिले के बगड़ी नगर क्षेत्र के करमावास पट्टा निवासी दुर्गाराम पुत्र प्रतापराम देवासी को गिरफ्तार किया है।

आरोपी दुर्गाराम देवासी भैराराम की साली का लडक़ा है। दुर्गाराम ने ही तेजपाल व विक्रम को नकली नोट देकर भैराराम के पास भेजा और इसके बदले अफीम खरीदकर लाने को कहा था। पुलिस ने विक्रम के कब्जे से एक कार भी बरामद कर ली है। विक्रम व तेजपाल ने पूछताछ में बताया कि उन्हें ये नोट तेजपाल के भाई फूलचंद ने लाकर दिए। अब पुलिस फूलचंद की तलाश कर रही है।

प्रिंटर से ही छापता रहा नकली नोट
सदर थानाधिकारी पटेल ने बताया कि रायपुर मारवाड़ थाना पुलिस द्वारा एक दिन पूर्व पिपलिया कलां से पकड़े गए नकली नोट के मामले में पुलिस ने पुलिस ने बिराटिया खुर्द निवासी आरोपी रेखा देवी (40) पत्नी लखन सिंह नायक, उसके पुत्र गणपतलाल (22) व पुत्री लक्ष्मी देवी (20) को गिरफ्तार किया था। उनके कब्जे से सौ रुपए के पांच नकली नोट, दो सौ रुपए के चार नकली नोट पांच सौ रुपए सात नकली नोट बरामद किए थे। रेखा देवी व उसकी पुत्री लक्ष्मी को जेल भेज दिया गया। जबकि आरोपी गणपत रिमाण्ड पर था। पूछताछ में आरोपी गणपत ने ये नोट अपने घर में ही प्रिंटर लगाकर छापने की बात कबूली। पुलिस ने प्रिंटर बरामद कर लिया है। आरोपी गणपत को भी न्यायालय ने रिमाण्ड अवधि पूरी होने पर जेल भेज दिया।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned