भरपूर पानी फिर भी मच गई पानी की त्राहि-त्राहि

- पाली शहर की ढाई लाख की आबादी से 24 घंटे पानी के नाम पर मजाक
- रोहट क्षेत्र व पाली शहर के साथ ही जिलेभर में पेयजल किल्लत - लोग सडक़ों पर उतरने को हो रहे मजबूर

By: Suresh Hemnani

Published: 06 Jun 2020, 04:31 PM IST

पाली। मारवाड़ी में कहावत है गर्मी ज्येष्ठ व आषाढ़ की, लेकिन इस ज्येष्ठ में तपन के साथ कोरोना की पीड़ा [ Corona virus outbreak ] के साथ शहरवासियों को नीर की पीर भोगनी पड़ रही है। रोहट के चौराई क्षेत्र में लोगों को कंठ तर करने को पानी नहीं मिल रहा तो शहर में भी हाल बदतर है। यह तो तब है जब जवाई बांध [ Jawai Dam ] में दो माह का पानी उपलब्ध है। रोजाना शहर की गलियों से मजबूर होकर महिलाएं व लोग निकल रहे हैं और कलक्टर से लेकर जलदाय विभाग [ Water supply department ] के अधिकारियों से पेयजल आपूर्ति [ Drinking water supply ] की गुहार लगा रहे हैं। इधर, कोरोना के कारण शहर के कई क्षेत्रों में कंटनेमेंट जोन बनाए गए है। वहां टैंकर भी नहीं मंगवाए जा सकते।

जरूरत 35 एमएलडी की, मिला 18 से 20 एमएलडी
पाली शहर की 2.60 लाख की आबादी के लिए रोजाना करीब 35 एमएलडी पानी की जरूरत होती है, लेकिन 25 मई से लेकर अब तक जलदाय विभाग के पास कई हैड वक्र्स पर पूरा पानी नहीं पहुंच रहा है। विभाग के भैरूघाट हैड वक्र्स पर 25 मई को 18 एमएलडी पानी आया। 28 को 18 एमएलडी और 29 को 20 एमएलडी पानी ही पहुंचा। अभी भी पानी पूरा 35 एमएलडी के बजाय 25 से 28 एमएलडी के बीच ही आ रहा है। ऐसे में शहर की मांग पूरी नहीं हो पा रही है।

जलदाय विभाग की सफाई
जलदाय विभाग के अधिकारियों के अनुसार 24 मई की रात भैरूघाट हैड वक्र्स पर बिजली का फॉल्ट आया। उसे 25 मई की दोपहर तक ठीक किया जा सका। इससे पानी बहुत कम मिला और जलापूर्ति बाधित हुई। इसके बाद 28 की रात फिर पांच घंटे बिजली बंद रही। मंडिया हैड वक्र्स पर 29 की रात को फॉल्ट आ गया, जिसे 30 मई की दोपहर 1 बजे ठीक किया जा सका। नतीजा पूरे शहर की जलापूर्ति बाधित हो गई। इसके बाद दो मई को विभाग की ओर से शट डाउन लिया गया। इससे जलापूर्ति बाधित रही।

आयूआइडीपी के दावे खोखले
शहर में 24 घंटे जलापूर्ति करने को लेकर दावे तो बहुत किए गए। शहर के कई क्षेत्रों में इसके नाम पर बिल वसूली भी शुरू कर दी गई है, लेकिन आज तक किसी भी क्षेत्र में 24 घंटे तो दूर समय पर जलापूर्ति तक नहीं की गई है। अब तो हालात यह है कि जिन क्षेत्रों में आयूआइडीपी की पाइप लाइन से जलापूर्ति शुरू करवाई गई है, वहां समय पर और कम दबाव से पानी दिया जा रहा है।

जवाई में 23 फीट से अधिक पानी
जवाई बांध में अभी 23.50 फीट पानी है। जो पाली शहर के साथ जिले में जलापूर्ति के लिए करीब 3 माह के लिए पर्याप्त है। इस तरह पानी की कोई कमी नहीं है। इसके बावजूद जलदाय विभाग व डिस्कॉम के बीच तालमेल के अभाव में शहरवासियों के साथ जिलेवासियों को जल संकट का सामना करना पड़ रहा है। रोहट क्षेत्र में हालात यह है कि चौराई के दिवान्दी, खुटाणी सहित कई गांवों में पानी नहीं पहुंच रहा।

आरयूआइडीपी इन क्षेत्रों कर रहा जलापूर्ति, समय तय नहीं
आयूआइडीपी की ओर से शहर के कई क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति नई पाइप लाइन से शुरू की गई है, लेकिन एक भी जगह पानी समय पर नहीं दिया जा रहा है। कभी रात में तो कभी दिन में आपूर्ति की जाती है, वह भी कभी आधा तो कभी एक घंटा। आयूआइडीपी लेबर कॉलोनी, राइकों की ढाणी, मंडली, मंडिया गांव, टैगोर नगर, नया गांव, सुभाष नगर, पुराना हाउसिंग बोर्ड, जय नगर, यश विहार के साथ सभी क्षेत्रों में मनमर्जी से दिन में कभी भी आधा-एक घंटे के लिए कम दबाव का पानी खोलकर इतिश्री की जा रही है।

एक वर्ष से परेशान
आनन्द नगर में नई पाइप लाइन बिछाई है। उस समय से पानी की समस्या है। इसे एक वर्ष गुजर गया है। कई गलियों में पानी नहीं पहुंच रहा है। अधिकारियों को कई बार अवगत कराया। राजेन्द्र नगर विस्तार, हिम्मत नगर, सरदारसमंद रोड, अम्बेडकर नगर इलाकों में कम दबाव से पानी आने के कारण त्राहि-त्राहि मची है। -त्रिलोक चौधरी, पूर्व पार्षद

कम दबाव से आता है पानी
वार्ड संख्या 40 में पानी कम दबाव से आ रहा है। ऐसे ही हालात वार्ड 41 के भी है। जिला कलक्टर को भी कई बार अवगत कराया है। बावजदू कोई सुधार नहीं हुआ है। बजरंग नगर, आदर्श नगर, जनता कॉलोनी, बसंत विहार, सुंदर नगर में लोग जल संकट से जूझ रहे हैं। -पुष्पा सोमनानी, पार्षद

-बिजली की आई समस्या भैरूघाट पर बिजली लाइन फॉल्ट आया था। इसके बाद मंडली हैड वक्र्स पर भी बिजली की समस्या आई। इस कारण जलापूर्ति बाधित हुई थी। वैसे पानी की अभी कोई कमी नहीं है। जवाई में भी पर्याप्त पानी है। -ओपी भट्ट, सहायक अभियंता, जलदाय विभाग, पाली

आंकड़ों से समझे पाली में पानी का गणित
-44,600 कनेक्शन शहर में
-40,122 कनेक्शन अभी चालू है
-35 एमएलडी पानी की रोजाना जरूरत
-25 से 28 एमएलडी पानी की दिया जा रहा शहर में
-23.50 फिट पानी जवाई बांध में
1464 एससीएफटी पानी जवाई में

इन क्षेत्रों के लोगों का टूटा सब्र, किया प्रदर्शन
-वार्ड संख्या 40 व 41 के लोगों ने, इस क्षेत्र में ही विधायक व पूर्व उप मुख्य सचेतक भी रहते हैं।
-पुराना हाउसिंग बोर्ड क्षेत्र-सुंदर नगर-आनन्द नगर

Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned