पाली-जोधपुर एकमात्र ऐसा राजमार्ग, जहां 23 किलोमीटर की दूरी में चुकाने पड़ रहे दो टोल

- रोहट को छोड़ जोधपुर संभाग में अन्य सभी हाइवे पर 60 किलोमीटर की दूरी पर है टोल
- पाली-जोधपुर मार्ग पर 23 किलोमीटर की दूरी के बीच है दो टोल

By: Suresh Hemnani

Published: 03 Apr 2021, 12:41 PM IST

पाली/रोहट। जोधपुर संभाग में कई राजमार्ग गुजरते हैं। सभी राजमार्गों पर टोल प्लाजा के बीच की दूरी 60 किलोमीटर है। पाली-जोधपुर राजमार्ग एकमात्र अपवाद है, जहां 23 किलोमीटर की दूरी में दो टोल प्लाजा बने हुए हैं। यहां रोजाना बड़ी संख्या में वाहन चालकों पर टोल का भार पड़ रहा है। पाली-जोधपुर राजमार्ग पर करीब सात साल पहले टोल वसूली शुरू हुई थी। इस मार्ग पर स्थित दोनों टोल प्लाजा के बीच की दूरी 60 किलोमीटर से कम है। महज 23 किलोमीटर की दूरी के बीच वाहन चालकों को दो टोल चुकाने पड़ रहे हैं।

शहर और गांवों में आक्रोश, विरोध की सुगबुगाहट
सालों से टोल वसूली से आजिज पाली शहरवासी और आसपास के गांवों के ग्रामीणों में विरोध की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। एनएच के नियमों के विपरीत दो जगह वसूले जा रहे टोल को लेकर विरोध किया जा रहा है। रोहट कस्बे के ग्रामीण आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं। वहीं पाली शहर के लोगों में भी टोल वसूली को लेकर आक्रोश है। ग्रामीण भी दो जगह टोल वसूली का विरोध कर रहे हैं।

प्रदेश के प्रमुख टोल प्लाजा
-पाली से जयपुर 3 सौ किलोमीटर की दूरी है। इस राजमार्ग पर जाडन, रायपुर, ब्यावर, किशनगढ़ और बगरू में टोल प्लाजा संचालित है। सभी टोल के बीच की दूरी 60 किलोमीटर या इससे ज्यादा है।
-पाली से अहमदाबाद के बीच 380 की दूरी है। इस राजमार्ग भी सभी टोल प्लाजा नियमों के दायरे में संचालित है।
-सादड़ी-रणकुपर-उदयपुर स्टेट हाइवे-32 - यह हाइवे बांसवाड़ा तक जाता है। पाली-उदयपुर के बीच इस मार्ग पर गोगुंदा के निकट एक टोल प्लाजा है। जहां यात्रियों को टोल चुकाना पड़ता है।
-जोधपुर-बाड़मेर राष्ट्रीय एनएच 25- जोधपुर से बाड़मेर की तरफ जाने वाले हाइवे के बीच दो टोल प्लाजा है। एक निम्बानियों की ढाणी के निकट व दूसरा कल्याणपुर के पास। दोनों के बीच की दूरी 60 किलोमीटर से ज्यादा है।

नियमों की जानकारी लेता हूं
किस नियम के तहत यहां दो टोल प्लाजा संचालित किए जा रहे हैं इसका पता लगवा रहे हैं। एनएचएआई से भी दस्तावेज मांगे हैं। सडक़ परिवहन मंत्रालय से भी इस बारे में बात करेंगे। -पी पी चौधरी, सांसद

गलत वसूल रहे टोल
कामकाज के सिलसिले में माह में करीब 10-15 बार जोधपुर आना-जाना होता है। पाली-जोधपुर के बीच दूरी महज 75 किलोमीटर हैं। फिर भी दो टोल पिछले कई वर्षों से चुकाने पड़ रहे हैं, जो गलत है। अब तो मासिक पास की राशि भी बढ़ा दी है। - रजनीश कर्नावट, उद्यमी

शिकायत की, लेकिन कुछ नहीं हुआ
पाली-जोधपुर के बीच हमें दो टोल चुकाने पड़ रहे है, जो गलत हैं। पूर्व में भी कई बार शिकायत कर चुके है। लेकिन सुधार को लेकर कुछ नहीं हुआ। हमारी जेब पर तो अभी भी टोल भारी पड़ रहा है। - भंवर चौधरी, समाजसेवी

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned