VIDEO : बालिका की मौत के बाद भडक़े लोग, चार घंटे तक रास्ता रोककर किया विरोध-प्रदर्शन

Suresh Singh Hemnani

Publish: Sep, 11 2018 08:55:41 PM (IST)

Pali, Rajasthan, India

पाली। औद्योगिक क्षेत्र थाना के सुभाष नगर बी व भटवाड़ा के बीच जोधपुर रोड पर मंगलवार को टूटी सडक़ व रोड पर मौजूद बेसहारा मवेशी के कारण असंतुलित होकर एक लोडिंग टेम्पो ने मासूम बालिका को चपेट में ले लिया। हादसे में बालिका की मौत हो गई। घटना के विरोध में क्षेत्रवासी भडक़ गए। बड़ी संख्या में महिलाएं व पुरुषों ने जोधपुर रोड पर लोहे के पोल रखकर रास्ता रोक दिया और प्रदर्शन करने लगे। वे टेम्पो चालक को गिरफ्तार करने, मृतक के परिजनों को मुआवजा देनेए सडक़ की दशा सुधारने व बेसहारा गोवंश को हटाने की मांग करने लगे। करीब चार घंटे तक मौके पर प्रदर्शन किया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने समझाइश कर उन्हें शांत किया। पुलिस ने टेम्पो
चालक सुभाष नगर बी निवासी रमेश पुत्र हजारीराम भाट के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। टेम्पो जब्त कर लिया गया है।

रोड की एक तरफ डीजे, सामने गायें व टूटी सडक़ें
पुलिस व प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुभाष नगर बी निवासी जयश्री 8 वर्षीय पुत्री दीपक नायक सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे स्कूल से घर पैदल जा रही थी। डिवाइडर क्रॉस करते समय रोड पर बाबा रामदेव मंदिर जाने वाले श्रद्धालु एक टेम्पो में डीजे लगाकर नाचते-गाते चल रहे थे। पीछे एक अन्य लोडिंग टेम्पो आ रहा था। रोड पर सामने बेसहारा मवेशी बैठे थे और सडक़ क्षतिग्रस्त थी। इस बीच लोडिंग टेम्पो असंतुलित हो गया और बालिका जयश्री को चपेट में ले लिया। वह गंभीर घायल हो गई। उसे अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम टूट गया। यह खबर जब क्षेत्रवासियों को लगी तो वे भडक़ गए।

करीब एक बजे मौके पर बड़ी संख्या में महिलाएं, बच्चे व युवा एकत्रित हो गए और उन्होंने मार्ग पर बिजली पोल व लकडिय़ां रख रास्ता रोक दिया। उनका आरोप था कि क्षतिग्रस्त सडक़ए बेसहारा मवेशी के कारण यातायात अव्यस्थित रहता है। इस कारण हादसे होते हैं। वे टेम्पो चालक को गिरफ्तार कर मौके पर लाने की मांग करने लगेए साथ ही सडक़ें सुधारने व मवेशी हटाने की बात करने लगे। सूचना पर सीओ सिटी छुग सिंह सोढ़ाए औद्योगिक क्षेत्र थानाधिकारी निरंजन प्रताप सिंहए हाउसिंग बोर्ड पुलिस चौकी प्रभारी गोविंद दान मय जाप्ता मौके पर पहुंचे। करीब चार घंटे की समझाइश के बाद वे माने। इसके बाद जाम खोला गया।

पुलिस छात्र संघ चुनाव में व्यस्त, लोग भडक़े
घटना के एक घंटे बाद तक पुलिस मौके पर नहीं आई। पुलिस छात्र संघ चुनाव के कारण कॉलेज में व्यस्त थी। जब मामला बिगड़ा तो पुलिस मौके पर पहुंची। जोधपुर से आने.जाने वाले वाहनों की कतार लग गई। जाम में यात्री फंस गए।
महिलाओं ने पुलिस.प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो लोगों ने खरी.खरी सुनाई। इस दौरान भीड़ को खदेडऩा पड़ा।

मां बेसुध, परिवार का बुरा हाल
हादसे की खबर सुनकर मासूम बालिक की मांग बेसुध हो गई। वह सडक़ पर ही विलाप करने लगी। उसके पिता व परिवार के अन्य लोग सडक़ पर ही विलाप करने लगे। पुलिस ने उन्हें संभाला।

मंत्री, सभापति व विधायक गुजरते है, लेकिन सडक़ नहीं सुधरती
मौके पर प्रदर्शन करने वाली महिलाओं का आरोप था कि इस रोड से रोजाना नगर परिषद सभापति, कई पार्षद, विधायक व खुद मंत्री भी गुजरते हैं। लेकिन सडक़ की दशा सुधारने की दिशा में काम नहीं होता। बेसहारा मवेशियों को हटाया
नहीं जाता। जबकि हाइकोर्ट इसको लेकर सख्त टिप्पणी कर चुका है। बावजूद इसके नगर परिषद कार्रवाई नहीं करती। सडक़ की हालत खराब होने के कारण आए दिन हादसे होते हैं। किसी को परवाह नहीं है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned